भारत सरकार के “डिजिटल भारत” कार्यक्रम के अन्र्तगत राष्ट्रीय डिजिटल साक्षरता अभियान की ट्रेनिंग पार्टनर Global Institute of Information Technology (GIIT) ने आज शुक्रवार को पटना के डाकबंगला चौक पर आंगनबाड़ी, आशा कार्यकर्ताओं एवं राशनिंग डीलरों को निःशुल्क कम्प्यूटर प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन स्थानीय विधायक नितिन नवीन एवं नेशनल इन्स्टीच्यूट आॅफ इलेक्ट्रोनिकी सूचना एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (नाईलिट) के प्रभारी निदेशक आलोक त्रिपाठी ने संयुक्त रूप से किया। GIIT ने पुरे देश में इच्छुक कंप्यूटर संस्थानों को इस परियोजना से जुड़ने के लिए अपने वेबसाइट www.indiagiit.com पर online enquiry तथा मोबाइल संख्या 9304043330 जारी किया है जिस पर लोग संपर्क कर अपने संस्थानों को भी इस परियोजना से जोड़ कर अधिक से अधिक लाभान्वितों को भारत सरकार की योजनाओं का लाभ दिलवा सकें

उद्घाटन समारोह से को सम्बोधित करते हुए नाईलिट के प्रभारी निदेशक आलोक त्रिपाठी ने भारत सरकार की इस परियोजना के तहत हर घर ई-साक्षर कार्यक्रम में संस्थान ने आज पटना के डाकबंगला चौक पर आंगनबाड़ी सेविका, आशा कार्यकर्ताओं और राशनिंग डीलरों को निःशुल्क डिजिटल प्रशिक्षण का शुभारम्भ किया है। संस्थान की तरफ से सिर्फ बिहार में 50 केन्द्र बनाये जा चुके हैं जहां यह प्रशिक्षण दिया जाना है। इस परियोजना में लाभान्वितों को कम्प्यूटर और मोबाईल के संचालन इन्टरनेट से होने वाली आॅनलाईन सुविधाओं की जानकारी देने के साथ-साथ डिजिटल साक्षर बनाने का प्रयास किया जायेगा। कोर्स पुरा होने पर उनकी आॅनलाईन परीक्षा आयोजित की जायेगी। सफल लाभान्वितों को डिजिटली साक्षर होने का प्रमाण भी दिया जायेगा।

विधायक नितिन नवीन ने कहा कि ग्लोबल इन्स्टीच्यूट आॅफ इन्फाॅरमेशन टेक्नोलोजी की पूरे देश में कई शाखाएँ संचालित होती है जिसके माध्यम से कम्प्यूटर की बेसिक से लेकर उच्च शिक्षा तक की पढ़ाई होती है। 1999 से चल रही यह संस्था विभिन्न सरकार की परियोजनाओं कों लाभान्वितों तक सफलतापूर्वक पहुंचाने कार्य करती है। आज से आरम्भ होने वाली आंगनबाड़ी, आशा कार्यकर्ताओं और राशनिंग डीलरों के डिजिटल प्रशिक्षण के लिए हमारी शुभकामना है।
संस्थान के प्रशिक्षण निदेशक मुदित मणि ने बताया कि ग्लोबल इन्स्टीच्यूट आॅफ इन्फाॅरमेशन टेक्नोलोजी राष्ट्रीय डिजिटल साक्षरता अभियान की नेशनल ट्रेनिंग पार्टनर है, जिसके तहत बिहार, राजस्थान, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, झारखण्ड, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल सहित अन्य राज्यों में अपने केन्द्रों/शाखाओं के माध्यम से डिजिटल प्रशिक्षण का कार्यक्रम संचालित किया जाना है। प्रशिक्षण की सफलतापूर्वक संचालन हेतू संस्थान ने सभी उच्च शिक्षा प्राप्त फैकल्टी को इस परियोजना में लगाया है। जिसमें प्रमुख रूप से ज्योति सहाय, रवि रमण आदि शामिल हैं।
उद्घाटन समारोह में मुख्य रूप से संस्थान के सीईओ मधुप मणि ‘‘पिक्कू’’, राज्य संयोजक अभिषेक रंजन, निर्भय कुमार, मनीष, प्रीति झा, सन्नी कुमार, विजय कुमार सहित सैकड़ों की संख्या में आंगनबाड़ी सेविकाएँ मौजूद थीं।

LEAVE A REPLY