कानपुर। फजलगंज थानाक्षेत्र में पिछले गुरुवार को एकाउंटेट से हुई लूट का खुलासा पुलिस ने रविवार को कर दिया है। एसएसपी ने बताया कि इस घटना के खुलासे में पुलिस ने सरगना समेत पांच अभियुक्तों को पकड़ कर उनके निशानदेही पर लूटा गया कैश बरामद कर लिया है।

शुक्लागंज में रहने वाले मनीष तिवारी फजलगंज स्थित के.के वाधवां  के सैडलरी फैक्ट्री में एकाउन्टेंट का काम करते है। सात जनवरी को वह वर्करों
की सैलरी देने के लिए बैंक से पैसा निकालने के लिए गये थे। उनके साथ में
अमन नाम के कर्मचारी भी गया था। वे बैंक से पैसा निकाल कर बैग में रखकर
पीछे बैठे अमन को पकड़ा दिया और खुद बाइक चलाने लगे।

फजलगंज चैराहे के पास पहंुचते ही पीछे से आये बाइक सवार दो युवकों ने अमन से बैग छीनकर भाग निकले। घटना की जांच करते हुए एसपी वेस्ट राजेश एस. ने अमन व मनीष से अलग जगह पर पूछतांछ की। पूछतांछ पर अमन का रवैये को देखकर पुलिस का शक गहरा गया तथा क्षेत्र में लगी सीसीटीवी फुटेज से लूट करके भाग रहे लूटेरों की बाइक भी नजर आ गयी। पुलिस ने फुटेज को कब्जे में लेकर छानबीन करने लगे।

जबकि अमन पर शक गहराता हुए फजलगंज पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर सख्ती से पूछतांछ की। जहां अमन ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। उसने बताया कि इस लूटकी वारदात को अंजाम देने की उसकी मुख्य भूमिका थी। लूट में उसने अपने दोस्त शनि, अमित, प्रशांत, राजू को भी शामिल किया है।

एसएसपी शलभ माथुर ने बताया कि फजलगंज पुलिस ने अभियुक्तों के निशानदेही पर शानि के घर डफरिन अस्पताल से लूटा गया 6.11 लाख रुपये कैश बरामद कर लिया है।
Viveksunami news tv kanpurfa624361-ead1-41f6-99a5-ee9bd4dc8317

LEAVE A REPLY