कानपुर में भी नमाज के दौरान पुलिस रही मुस्तैद

कानपुर  व फतेहपुर । जहानाबाद में जुलूस के दौरान पत्थरबाजी और आगजनी के बाद दो संप्रदायों के बीच हुए बवाल के बाद प्रशासन के लिए सबसे बड़ी चुनौती जुमे की नमाज रही। कई बड़े अफसरों और भारी पुलिस बल की मौजूदगी में जुमें की नमाज अता की गई। कस्बे की हर सड़क पर सन्नाटा पसरा है।

फोर्स के बूटों का शोर सन्नाटे को चीर रहा है। अफसर दोनों संप्रदायों और कस्बे के संभ्रांत लोगों को बैठाकर बिगड़े हालात पर काबू पाने की कोशिश में जुटे हुए हैं। समाचार लिखे जाने तक जुमे की नमाज अता हो चुकी थी। आईजी के साथ हमीरपुर, कौशांबी के एसपी भी पूरे नमाज के वक्त जहानाबाद में ही मौजूद रहे।

फतेहपुर के जहानाबाद में गुरूवार को जुलूस के दौरान भिड़े दो संप्रदायों
की घटना के बाद कई जनपदों की फोर्स के पहुंचने पर उपद्रवी घरों के अंदर
दुबकने पर मजबूर हुए। रात में माहौल न बिगड़ जाए इसको देखते हुए पूरी रात
गश्त के साथ भारी पुलिस बल रूट मार्च करता रहा। आधी रात के बाद पुलिस ने
धरपकड़ का अभियान शुरू की और करीब 27 लोगों को हिरासत में ले लिया गया।

शुक्रवार की सुबह हुई तो पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती जुमे की नमाज रही। दोपहर तक आईजी भगवान स्वरूप, एसपी हमीरपुर मुनिराज, एसपी कौशांबी
ओपी पांडेय जहानाबाद में मौजूद रहे। थाना परिसर में ही अफसरों ने दोनों संप्रदायों के संभ्रांत लोगों को बुलाकर शांति बनाए रखने की अपील की। नमाज का वक्त होते ही मस्जिद के आसपास के एरिया में भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया।

पीएसी के साथ लोकल पुलिस और आरएएफ की टुकड़ी भी लगा दी गई। समाचार लिखे जाने तक नमाज अदा की जा चुकी थी। नमाज हो जाने के बाद अफसरों ने राहत भरी सांस ली। सूत्रों की मानें तो नमाज के बाद अब अफसरों की प्राथमिकता है कि किसी तरह बाजार खुले और सड़कों पर फैला सन्नाटा टूटे, ताकि लोगों के दिलों से खौफ बाहर निकले। इसके लिए अफसरों की तरफ से पूरी कवायद जारी है।

एसपी फतेहपुर का कहना है कि स्थित पूरी तरह से कंट्रोल में है। जुलूस में पत्थरबाजी कर आगजनी करने वाले उपद्रवी किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जाएंगे। वीडियो और फुटैज देखने के बाद कई लोगों को चिन्हित भी किया गया है। सभी की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। सुरक्षा के मद्देनजर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। जुमे की नमाज शांतिपूर्वक हो चुकी है। बाजार भी शाम तक खुल जाएंगे।d756cd71-17b2-4453-a5a8-fa9af0cd106d

LEAVE A REPLY