विवेक सिहं कानपुर

कांग्रेसी नेताओं के साथ पीडि़त परिजनों व आसपास के कई गांवों की पहुंची भीड़
कानपुर। चार दिन पूर्व लाठी-डंडे से पीट-पीटकर ट्रक ड्राइवर की हत्या के मामले में नया मोड़ आ गया है। मृतक के परिवार ग्रामीणों की भारी संख्या लेकर एसएसपी आवास पहंुचा। जहां उसने पतारा चौकी इंचार्ज व हत्यारों से मिली भगत का आरोप लगाया है। पीडि़तों के मुताबिक चौकी इचांर्ज ने उनकी गैरहाजिरी में एक अज्ञात युवक से तहरीर ले ली।

जबकि परिवार ने कोई ऐसी तहरीर नहीं दिए जाने की बात कही है। मामला अधिकारियों
के पास पहंुचने पर चौकी इंचार्ज की करतूत की जानकारी हुई। इस पर पीडि़त परिवार ने चौकी इंचार्ज को सजा व मृतक को न्याय दिलाने के लिए एसएसपी से गुहार लगाई है।
क्या था मामला
घाटमपुर थानाक्षेत्र स्थित पतारा ब्लाॅक हिरनी गांव निवासी किसान केदारपाल का बेटा जगराम पाल की 13 जनवरी की रात उदय सिंह बद्री सिंह शमशेर सिंह लाठी-डंडे से मारपीट कर हत्या कर दी। जिसके बाद हत्यारोपी भाग निकले। मामले की जानकारी होने पर पतारा चौकी इंचार्ज राघवेन्द्र सिंह पहंुचे। जहां कोरे कागज पर अंगूठा लगवा शव को पोस्टमाटम भेज दिया।

चौकी इंचार्ज का खेल
पीडि़त परिवार का आरोप है कि चैकी इंचार्ज ने घटना के दौरान मृतक के पिता से कोरे कागज पर अगंूठा लगवा लिया और हत्यारोपी से साठगांठ कर ली। जहां चौकी इंचार्ज ने अज्ञात युवक से हत्यारोपी के पक्ष में तहरीर दिलवायी। जब पीडि़त परिवार ने तहरीर की बात कहीं तो चैकी इंचार्ज ने कहा कि तुम्हारी तहरीर ले ली गयी है और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि परिवार ने कोई ऐसी तहरीर नहीं देने की बात कहीं। आरोप है कि जब उन्होंने तहरीर की कापी मांगी तो चौकी इंचार्ज ने देने से मना कर दिया और चार दिन तक रिपोर्ट नहीं दी।

इतनी भीड़ देख कप्तान ने रोकी कार
चौकी इचांर्ज राघवेन्द्र व हत्यारो से मिली भगत का आरोप लगाते हुए मृतक
के परिवार सोमवार को कांग्रेस के नेता राजाराम पाल के साथ सैकड़ो ग्रामीणों के साथ एसएसपी कार्यालय पहंुचा। इतनी भीड़ को देखते हुए कही जा रहे एसएसपी ने सड़क पर कार रोकी और मामले की जानकारी की। घटना की जानकारी होने पर एसएसपी ने पीडि़त परिवार को अपने आवास बुलाया। जहां उन्होंने पीडि़त परिवार की बात सुन दरोगा को सस्पेंड कर दिया और जांच सीओ को सौपी65f20583-f229-420f-8379-7136f2d7900d

LEAVE A REPLY