कानपुर। बर्रा थानाक्षेत्र में बीतीरात अज्ञात बदमाशों की गोली से घायल किशोर ने हैलट अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। जबकि पुलिस की गश्ती पर पीडि़त परिवार ने सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर टीम को लगा दिया गया है। वहीं बेटे की मौत के बाद से पूरा परिवार सदमे में है।
मूलरुप से छत्तीसगढ़ निवासी राजमिस्त्री पीलाराम परिवार के साथ हेमंत बिहार बर्रा दो में रहता है। उनके तीन बच्चों में सबसे बड़ा बेटा हीरालाल (14) क्षेत्र के ही आॅक्सफोर्ड स्कूल में कक्षा छह का छात्र था। राजमिस्त्री ने बताया कि रात करीब आठ बजे बेटा शौच का बहाना बताकर घर से निकला था। रामजानकी मन्दिर के पास वह लहुलूहान हालत में तड़प रहा था, जिसे तीन गोली लगी थी।

इस पर क्षेत्रीयों ने परिवार को सूचना दी, बेटे को गोली लगने की खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया। वहीं सूचना मिलते ही सीओ गोविन्द नगर विशाल पाण्डेय बर्रा एसओ तुलसीराम पाण्डेय पुलिस के साथ मौके पर पहंुच गये। उन्होंने आनन-फानन में घायल हीरालाल को इलाज के लिए हैलट अस्पतला लेकर पहंुचे। जहां डाक्टरों ने घायल बेटे को इलाज शुरु कर दिया।

देररात घायल को होश आने पर एसओ ने पूछतांछ की। जिस पर हीरालाल ने बताया कि साइकिल की चेन उतरने पर वह उसे ठीक कर रहा था। उसी दौरान एक मोटा तगड़ा युवक आया और साइकिल को हटाने की बात कहीं। साइकिल न हटाने पर उसने फायर झोक दिया और हीरालाल ने दम तोड़ दिया। मौत की खबर मिलने पर घर में मातम पसर गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बुधवार को पोस्टमार्टम में 32 बोर की तंमचा से गोली लगने की पुष्टि हुई है।

LEAVE A REPLY