नई दिल्ली – शायद ही कभी आपने सुना हो कि ३० करोड़ नोट जलाने पड़ेंगे, क्योंकि आरबीआई ने अब तक का सबसे बड़ा ब्लंडर किया है। सेंट्रल बैंक ने हजार रुपए के ३० करोड़ नोट गलत छाप दिए हैं। इनमें सिल्वर सिक्योरिटी थ्रेड नहीं है। ३० करोड़ नोट में से २० करोड़ तो रिजर्व बैंक के पास हैं, लेकिन १० करोड़ नोट बाजार में जारी किए जा चुके हैं।

गलती का पता चलने के बाद आरबीआई और फाइनेंस मिनिस्ट्री ने इन नोटों को जलाने का फैसला किया है। अगर आपके पास भी ऐसा नोट आ गया है तो घबराने की जरूरत नहीं है। आरबीआई ने सभी बैंकों को ऐसे नोट बदलने का आदेश दिया है।

करनी पड़ेगी आरबीआई को मशक्कत

आरबीआई के अनुसार, १ हजार के ५ एजी और ३ एपी सीरीज के नोट सिल्वर सिक्योरिटी थ्रेड के बगैर छप गए हैं। अब इन नोटों को वापस लिया जा रहा है, लेकिन रिजर्व बैंक के पास अब तक सिर्फ ६ करोड़ नोट ही जमा हो सके हैं। आरबीआई के सामने सबसे बड़ी मुसीबत यह है कि १० करोड़ नोट लोगों तक पहुंच चुके हैं और जब तक लोग सक्रियता नहीं दिखाएंगे, नोट वापस नहीं मिल सकते।

ऐसे हुई गलती

होशंगाबाद और नासिक में कुछ कर्मचारियों के निलंबन के बाद इस गलती का खुलासा हुआ। इनका करंसी पेपर पहले होशंगाबाद में सिक्योरिटी प्रिंटिंग और मीटिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड से निकला। उसके बाद नासिक में आरबीआई प्रेस पहुंचा। इसके बाद ही यह गलती हुई है।

आप ऐसे करें अपने नोटों की जांच

बाजार में १० करोड़ नोट पहुंच चुके है। आपके पास मौजूद १००० रुपए के नोट की जांच करें कि क्या वह ५ एजी और ३ एपी सीरीज का है? अगर है तो इस नोट को लाइट के सामने रखकर देखें। डिजिट के नीचे रु लिखा हुआ तो नजर आएगा, लेकिन नोट के फ्रंट साइड में सिल्वर सिक्योरिटी थ्रेड नजर नहीं आएगा। अब इसे बदलने के लिए आप किसी भी बैंक में जा सकते हैं। आरबीआई पहले ही बैंकों को निर्देश दे चुका है कि अगर कोई व्यक्ति गलत छपे नोट को लेकर आता है तो उसे जांच के बाद बदल दिया जाए।one-thousand-note-569f2a1332c35_l

LEAVE A REPLY