सांस्कृतिक कार्यक्रम में आंतकियों को मुंह तोड़ जवाब देने का बच्चों ने दिया संदेश
(बडी खबर) कानपुर
कानपुर। पठानकोट एयरबेस पर हमले को अंजाम देने वाले पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के नाम से कानपुर के चकेरी स्थित सेंट्रल स्कूल को 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मौके पर बम से उड़ाने की धमकी दी गई। साजिशकर्ता ने केंद्रीय विद्यालय के प्रधानाचार्य को पत्र भेजकर विद्यालय को उड़ाने की धमकी दी। जिसको लेकर पुलिस महकमे व खुफिया तंत्र में हड़कंप मच गया।
प्रधानाचार्य की शिकायत पर एसएसपी ने एलआईयू और क्राइम ब्रांच की टीमों को मामले की पड़ताल में लगाया। वहीं मामला केंद्रीय विद्यालय से जुड़ा होने के कारण सेना के जवान भी विद्यालय की सुरक्षा के लिए पहुंचे। सुबह  कड़ी सुरक्षा के बीच विद्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। केंद्रीय विद्यालय रक्षा विहार के प्रधानाचार्य के अनुसार उन्हें डाक से एक धमकी भरा पत्र मिला, जिसमें पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई और जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन का जिक्र है।
चकेरी थाना क्षेत्र के श्याम नगर इलाके की रक्षा विहार कॉलोनी, जिसमें  आर्मी के कई अधिकारियों के घर भी है। उसी कैम्पस में केंद्रीय विद्यालय भी है। इसी स्कूल के प्रिंसिपल के पास स्पीड पोस्ट से सोमवार दोपहर बाद एक पत्र आया। जिसे खोलकर पढ़ने के बाद प्रिंसिपल डॉ. एस. सी. शर्मा के होश फाख्ता हो गए। पत्र में पाकिस्तानी आतंकी संगठन आईएसआई और जैश-ए-मोहम्मद की तरफ से स्कूल को उड़ाने की धमकी दी गई थी।
सूचना के बाद से पुलिस और मिलिट्री के कई अधिकारी  मौके पर पहुंचे और स्कूल की गहनता से छानबीन की। सीओ कैन्ट सहित चकेरी थाना की पुलिस व करीब एक दर्जन जवान स्कूल में ही मुस्तैदी के साथ डटे रहें। सेन्ट्रल स्कूल को बम से उड़ाने की धमकी के बाद झंडा रोहण के कार्यक्रम से पहले डॉग स्क्वायड और बम निरोधक दस्ते ने स्कूल परिसर में बारीकी से छानबीन की। बम निरोधक दस्ते और डॉग स्क्वायड की टीम ने गहन निरीक्षण के बाद राहत की सांस ली। सेन्ट्रल स्कूल में जांच टीम को किसी भी प्रकार की कोई संदेहास्पद वस्तु नहीं मिली। रक्षा विहार में मिलिट्री अधिकारियों की कॉलोनी है, लिहाजा आसाम राइफल्स की टुकड़ी ने भी सेन्ट्रल स्कूल परिसर की जांच की।1a0055d8-0c39-4ab1-aaed-d5efe3f7cc14

LEAVE A REPLY