बडी खबर
विवेक सिहं जोनल हेड कानपुर
कानपुर। मथुरा से चलकर कानपुर के रास्ते न्यू जलपाई गुड़ी जा रही माल से भरी मालगाड़ी कल्याणपुर रेलवे स्टेशन पहुंची। यहां से आगे बढ़ते ही करीब आधा किलोमीटर की दूरी पर अचानक माल गाड़ी की कपलिंग टूट गई और गाड़ी दो हिस्सों में बट गई। यह देख चालक व गार्ड घबरा गए और इमरजेंसी ब्रेक लगाकर गाड़ी रोक मामले की जानकारी अधिकारियों को दी। रेलवे प्रशासन ट्रैक से बोगियों को हटवाने में जुट गया, लेकिन छह घंटे बीत जाने के बाद भी ट्रैक पर खड़ी बोगियों को नहीं हटाया जा सका था।

मथुरा से माल लाद कर बीती रात न्यू जलपाई गुड़ी जा रही माल गाड़ी संख्या 12757 कानपुर आ रही थी। कानपुर के कल्याणपुर स्टेशन से निकलते ही कुछ दूरी पर पहुंचने पर बगिया क्रासिंग व वुड बाइन स्कूल के बीच अचानक बोगी नंबर 53372 की कपलिंग टूट गई और इंजन के साथ 18 डिब्बे आगे निकल गए।

माल गाड़ी के गार्ड मनी सिंह ने दो भाग में गाड़ी के होने की जानकारी वॉयरलेस सेट से चालक योगेश कुमार को दी। जिसके बाद चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर गाड़ी रोकी। गाड़ी के दो हिस्सों में होने की जानकारी गार्ड व चालक ने रेलवे के अधिकारियों को दी। इस बीच लोगों की भीड़ जुटने लगी और रेलवे की लापरवाही के चलते गाड़ी के दो भागों में बटने की आरोप लगाने लगे। वहीं जानकारी पर कल्याणपुर स्टेशन अधीक्षक राम कुमार कर्मियों के साथ पहुंचे और राहत कार्य में जुट गए।

करीब दो घंटे बाद चालक 18 बोगियों के साथ गाड़ी को आगे रावतपुर स्टेशन की ओर ले गया। इस बीच टूटकर अलग हुए करीब 22 बोगियां वुडवाइन स्कूल से लेकर कल्याणपुर थाना के सामने पटरी पर खड़े रहे। स्टेशन मास्टर ने बताया कि दूसरा इंजन मंगाया गया है। उसके आने पर ट्रैक पर खड़ी बोगियों को हटाया जाएगा।

नहीं पहुंचे आलाधिकारी

दो हिस्सों में मालगाड़ी के हो जाने की सूचना के बावजूद मौके पर पांच घंटे बाद भी रेलवे का कोई भी बड़ा अधिकारी नहीं पहुंचा। इसको लेकर स्थानीय लोगों ने भी नाराजगी जताई। वहीं कल्याणपुर स्टेशन अधीक्षक भी इंजन आने के इंतजार में अधिकारियों से बात करते रहे, लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों ने घटना को गंभीरता से नहीं लिया।

बड़ा हादसा टला

कपलिंग टूटने से चलती मालगाड़ी दो हिस्सों में बट गई। जिस समय यह घटना हुई उस समय गाड़ी की स्पीड करीब 30 किलोमीटर प्रति घंटा के आसपास थी। चालक व गार्ड के मुताबिक अगर स्पीड तेज होती तो टूटकर अलग हुई बोगियां इमरजेंसी ब्रेक लगाने के बाद रूकी दूसरे हिस्से से टकरा सकता था। जिसके बाद यह घटना बड़े हादसे में भी तब्दील हो सकता था।

11b95e19-ba73-4741-9426-bfa0ffa33932

LEAVE A REPLY