पाकिस्तान के इस्लामाबाद से शुक्रवार की सुबह आई कॉल में यहां के एक छात्र को आईएसआईएस से जुड़ने का ऑफर दिए जाने से पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। पुलिस ने पाक और छात्र के नंबरों के कॉल रिकार्ड की जांच शुरू कर दी है। कॉल करने वाले ने अपने को प्रतिबंधित संगठन आईएसआईएस का सक्रिय सदस्य बताया और संगठन से जुड़ने पर पैसा व सुविधा मिलने की बात कही।

इंटर के छात्र मुकेश कुमार ने इस आशय का आवेदन थाने में दिया है। आवेदन के अनुसार भभुआ थाना के अखलासपुर गांव के मुकेश कुमार के मोबाइल पर शुक्रवार की सुबह 8 बजकर 45 मिनट पर अनजान नंबर से कॉल आयी तो उसने नहीं उठाया। शहर के सरदार वल्लभ भाई पटेल कॉलेज का छात्र उस समय शहर के आदित्या कम्प्यूटर सेन्टर में गया था।

कुछ देर बाद ही जब उसने पाकिस्तान के नंबर 923320434463पर अपने मोबाइल नंबर 7301386597से कॉल की तो उधर से बताया गया कि मैं इस्लामाबाद पाकिस्तान से बोल रहा हूं। मैं आईएसआईएस का सक्रिय सदस्य हूं। तुम भी इस संगठन से जुड़ जाओ तुम्हें बहुत पैसा और सुविधाएं मिलेंगी। छात्र के इंकार पर फोन काट दिया गया। छात्र की मोबाइल उसके पिता रामा यादव के नाम से है। भभुआ थानाध्यक्ष अविनाश कुमार सिंह ने आवेदन पर सनहा दर्ज करते हुए युवक व पाकिस्तान के मोबाइल नंबर की जांच के लिए एसपी कार्यालय को भेज दिया।

पुलिस मोबाइल नंबरों की गहन जांच कर इन नंबरों पर  जुड़ने वाले लोगों के चरित्र को भी खंगाल रही है। पुलिस छात्र के भी चरित्र के बारे में गहन जांच कर रही है।  भभुआ थाना में आवेदन पड़ते ही पुलिस महकमा आईएसआईएस के कैमूर से तार जुड़ने की संभावना पर हाईटेक जांच में जुट गया है। इस बाबत पूछे जाने पर पुलिस अधीक्षक हरप्रीत कौर ने बताया कि मामले में मोबाइल नम्बरों की  गहन जांच कर कार्रवाई की जा रही है।isis-29-01-2016-1454075127_storyimage

LEAVE A REPLY