रिपोर्ट । राज्य ब्यूरो एम् तिवारी
बिलासपुर में एक ऐसा मंदिर है, जहां भगवान हनुमान के स्त्री रूप की पूजा की जाती है.जिले से करीब 25 किलोमीटर दूर रतनपुर नाम का एक गांव है. इस मंदिर में बाल ब्रह्मचारी हनुमान जी की स्त्री स्वरूप में पूजा होती है. गांव में महामाया देवी का एक विशाल मंदिर भी है और उसी मंदिर के पास दुनिया बजरंगबली का मंदिर है.इस मंदिर को गिरजाबंध हनुमान मंदिर भी कहा जाता है. इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि इस प्रकार का मंदिर पूरे विश्व में और कहीं भी नहीं है. इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यहां आने कोई भी भक्त खाली हाथ नहीं जाता. बजरंगबली सबकी मनोकामना पूरी करते हैं.बताया जाता है कि यहां हजारों साल पहले पृथ्वी देवजू नाम के राजा राज्य किया करते थे. राजा को एक बिमारी थी. इस बिमारी के कारण राजा दिन-रात अपने शरीर की चिंता में रहते थे. एक दिन सपने में हनुमानजी ने राजा को दर्शन दिए. लेकिन जो हनुमान जी ने राजा को स्त्री रूप में दर्शन दिए थे.स्त्री रूप में आए हनुमानजी ने रजा से कहा कि मैं तुम्हारी भक्ति से प्रसन्न हूंऔर तुम्हें इस बिमारी से मुक्ति दूंगा. तुम्हे एक मंदिर बनवाकर मेरे इस रूप की स्थापना करनी होगी और मंदिर के पास एक तालाब बनवाकर उसमे स्नान करना होगा. ऐसा करने पर तुम्हे हर कष्ट से मुक्ति मिल जाएगी.राजा ने मंदिर का निर्माण करवाया और प्राचीन महामाया मंदिर के कुंड में उनकी स्त्री रूप में रखी मूर्ति की स्थापना की. तब से आज तक इस मंदिर में बजरंगबली के स्त्री रूप की पूजा होती है26b50f94-60a6-4c61-a8b3-007f4ada3ac0 1ea018ec-9cfb-44cf-b035-15056ff826c5

LEAVE A REPLY