रिपोर्ट@सुनामी न्यूज़ टीवी

बिलासपुर । शहर से लगे ग्राम पंचायत निरतु के सरपंच सचिव व् अधिकारियों के मिली भगत से जिले की जीवन दायनि नदी अरपा नदी में रेत माफिया धड़ल्ले से अवैध उत्खनन के कारोबार को संचालित कर रहे हैं.खनिज विभाग के अधिकारी से रेत माफियाओं को मिल रही संरक्षण के कारण अरपा नदी से रेत का अवैध उत्खनन लगातार जारी है और नियमों को ताक में रख कर घड़ल्ले के साथ जेसीबी मशीन का उपयोग कर रेत उत्खनन और परिवहन कर रहे हैं.नदी किनारे बेतरतीब खुदाई के कारण नदी के कटाव रोकने के लिए बनी दीवार भी छतिग्रस्त होने लगी है, लेकिन खनिज विभाग के अधिकारियों की नजर में अवैध कारोबारी पर नजर ही नहीं पड़ रही है.अब जिला प्रशासन ने रेत के अवैध उत्खनन को रोकने के लिए नई पहल की तैयारी शुरू की है, जिसमें भारत सरकार के पर्यावरण विभाग द्वारा जिला स्तर में रेत घाट स्वीकृति के अनुमति दे दी गई है
जिसके चलते ग्रामीणों को काफी समस्या का सामना करना पड़ता  इन बेलगाम बाहनो से कई बार   गाव वालो की जान का भी कीमत चुकाना पड़ता है
क्या कहते है नेता ।
जब इस बारे में (अखिल भारत हिन्दू महासभा युवा मोर्च )के      मध्य भारत अध्यक्ष ललित पटेल जी से बात की गयी तो उन्होंने बताया की बिलासपुर जिले की जीवन दायनी एक मात्र नदी अरपा है जिससे लाखो ग्रामीणों का रोजगार जुड़ा हुआ है लेकिन जेसीबी मशीन से खुदाई होगी तो यह रोजगार बहुत ही जल्दखत्म हो जायेगा इसको तुरंत बंद करना चहिये प्रशासन को वही पर्यावरण विभाग गहरी नीद में है ।
क्या कहते है सरपंच
जब इस मामले में सरपंच प्रतिनिधी योगेश(संतोष) भोई से बात की गयी तो छुपते हुए नजर आये और फोन में उन्होने  बताय की इस बारे में बाद में बात करुगा ।
क्या कहते है विभागीय अधिकारी ।
सुनामी न्यूज़ टीवी की टीम
जब इस मामले को लेकर जिला खनिज अधिकारी केके बंजारे जी से बात की गयी तो उन्होंने बताया की जरुरी मीटिंग में है बाद में बात करेगे और कुछ भी बोलने से मना कर दिए ।8d16bcc0-13cf-4de8-b237-0ca464777938 47546493-8dd6-41bd-9427-3d3af6795d41

LEAVE A REPLY