अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में जारी गिरावट को देखते हुए पांचवी बार पेट्रोल और डीजल की कीमत घटाई गई है, लेकिन सरकार के पेट्रोल एवं डीजल के उत्पाद शुल्क में केवल जनवरी में तीन बार बढ़ोतरी करने के कारण आम लोगों को दोनों पेट्रोलियम उत्पादों पर गिरावट का बहुत कम लाभ मिल सका है।

सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसीएएल) ने पेट्रोल की कीमत में चार पैसे और डीजल में तीन पैसे की कटौती की है। वहीं, गैर सब्सिडी रसोई गैस 82.50 रुपये, सब्सिडी वाला एलपीजी 11 पैसे तथा विमान ईंधन 4765.5 रुपये प्रति किलोलीटर सस्ता हो गया है। नई दरें रविवार मध्य रात्रि से लागू हो गईं हैं। इस कटौती से दिल्ली में पेट्रोल 59.95 रुपये और डीजल 44.68 रुपये प्रति लीटर मिलेगा।

केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड ने शनिवार को जारी अधिसूचना में पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क एक रुपये तथा डीजल पर डेढ़ रुपये की घोषणा की है, जो रविवार से प्रभावी हो गई है। सरकार के इस फैसले से पेट्रोल पंपों पर बिकने वाले खुदरा (नॉन ब्रांडेड) पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 8.48 रुपये से बढ़कर 9.48 रुपये प्रति लीटर तथा नॉन ब्रांडेड डीजल पर उत्पाद शुल्क 9.83 रुपये से बढ़कर 11.33 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसीएल) ने बताया कि दिल्ली में रविवार से 14.2 किलो वाला गैर सब्सिडी रसोई गैस सिलेंडर 575 रुपये, सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर 419.22 रुपये और विमान ईंधन 35126.82 रुपये प्रति किलोलीटर का मिलेगा।petrol-01-02-2016-1454265273_storyimage

LEAVE A REPLY