नॉर्थ जोन इंटर यूनिवर्सिटी महिला हॉकी चैंपियनशिप के आखिरी दिन सोमवार को हार और हूटिंग से मेहमान टीम मैदान में ही आपा खो बैठी. आखिरी मुकाबले में एलयू की टीम के हाथों शिकस्त मिलने से भड़कीं कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय टीम की खिलाड़ियों ने मैच खत्म होते ही रेफरी को पीटना शुरू कर दिया. बीचबचाव की कोशिश में एलयू टीम की गोलकीपर भी चोटिल हो गई.

रेफरी पर लगाए गए आरोप
मारपाटी के साथ ही कुरुक्षेत्र की टीम ने रेफरी पर पक्षपातपूर्ण फैसले का आरोप भी लगाया है. वहीं, रेफरी ने अभद्रता की लिखित शिकायत की है.

5 खिलाड़ियों के खिलाफ शिकायत
कुरुक्षेत्र की 5 खिलाड़ियों पर रेफरी सुमित कुमार पाल से मारपीट का आरोप है. हालांकि, रेफरी ने अभद्रता की बात कही है. इसे लेकर रेफरी ने कुरुक्षेत्र टीम की शिल्पी, कविता रानी, दीप्ती, परमजीत और भारती शर्मा के खिलाफ प्रॉक्टर प्रो. निशि पांडेय से लिखित शिकायत की है.

मैच के दौरान रेफरी को दिखाई हॉकी
लखनऊ यूनवर्सिटी में नॉर्थ जोन इंटर यूनिवर्सिटी हॉकी टूर्नामेंट का फाइनल मैच एलयू और कुरुक्षेत्र विवि की टीम के बीच चल रहा था. दोनों टीमों के खिलाड़ी अंतिम मैच जीतने के लिए लगातार एक-दूसरे के गोल पोस्ट पर हमले करती रहीं. कई बेहतरीन मूव के बाद पहले हाफ का खेल खत्म होने तक एलयू की टीम ने एक गोल से बढ़त बना ली. खेल के दौरान कई मौकों पर कुरुक्षेत्र विवि की टीम ने रेफरी के फैसलों का विरोध भी किया. यहां तक कि फैसले से नाराज कुरुक्षेत्र विवि की खिलाड़ियों ने एक बार रेफरी को हॉकी तक दिखाई.

फाइनल सीटी बजते ही रेफरी पर किया हमला
एक गोल से टीम के आगे होने के बाद एलयू के स्टूडेंट्स ने जोश में शोर मचाना भी शुरू कर दिया. इस दौरान कुरुक्षेत्र विवि के खिलाड़ियों की हूटिंग भी हुई. दूसरे हाफ में कुरुक्षेत्र की टीम ने बेहतर खेल दिखाया और मैच 1-1 की बराबरी पर आ गया. हालांकि, कुछ ही देर बाद एलयू की टीम ने एक और गोल दागकर 2-1 से बढ़त बना ली. इस दौरान रेफरी के फैसलों को लेकर कुरुक्षेत्र की टीम लगातार दबाव बनाती रही, लेकिन बात नहीं बनी. फाइनल सीटी बजते ही खिलाड़ी आपा खो बैठीं और रेफरी को पीटना शुरू कर दिया.

तीन दिन पहले भी एलयू पर लगे थे आरोप
मैच के बाद रेफरी की भूमिका पर सवाल उठाते हुए दूसरे प्रदेशों से आई टीमों की खिलाड़ियों ने ‘जिसकी फील्ड उसकी शील्ड’ के नारे भी लगाए. 3 दिन पहले भी एलयू की टीम पर राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को गलत तरीके से टीम में खिलाने का आरोप लगा था. उस समय हंगामा इतना बढ़ा था कि मैच तक रोकना पड़ा.

hockey_145438151642_650x425_020216082723

LEAVE A REPLY