मार्टिन गप्टिल ने 90 रनों की आक्रामक पारी खेली (फाइल फोटो)

सिडनी वनडे और टी-20 सीरीज में मिली करारी हार से ऑस्ट्रेलियाई  टीम उबरी भी नहीं थी कि अब न्यूजीलैंड ने उसे 159 रन से बुरी तरह धो दिया है। ऑकलैंड में खेले गए सीरीज के पहले ही वनडे में न केवल ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजी बल्कि बल्लेबाजी भी लड़खड़ा गई। खास बात यह कि स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर जैसे दिग्गज खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलियाई टीम मैनेजमेंट ने टीम इंडिया के साथ हुई टी-20 सीरीज के बीच में ही न्यूजीलैंड भेज दिया था, ताकि टीम वहां अच्छा प्रदर्शन कर सके। यदि पहले वनडे के परिणाम को देखें, तो उनका यह दांव उल्टा पड़ता दिखाई दे रहा है। वे न तो टीम इंडिया के खिलाफ टी-20 सीरीज में वापसी कर पाए और न ही न्यूजीलैंड में उनकी शुरुआत ठीक रही है।

पहले गेंदबाजों की हुई खूब पिटाई, लगे 25 चौके और 13 छक्के
न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने पहले बैटिंग करते हुए ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का वैसा ही हाल किया जैसा विराट कोहली एंड टीम ने किया था। गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया की पूरी सीरीज में रोहित शर्मा, विराट कोहली और शिखर धवन ने न केवल वनडे बल्कि टी-20 में भी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की धज्जियां उड़ा दी थी। न्यूजीलैंड की ओर से कप्तान ब्रैंडन मैक्कुलम और मार्टिन गप्टिल ने पारी की शुरुआत की। दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 79 रन की साझेदारी हुई। न्यूजीलैंड की टीम ने 50 ओवर में आठ विकेट पर 307 रन बनाए। खास बात यह कि इस पारी के दौरान 25 चौके और 13 छक्के लगे।

गप्टिल, मैक्कुलम की आतिशी पारी
न्यूजीलैंड के ओपनर मार्टिन गप्टिल का शानदार फॉर्म पाकिस्तान के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी कायम रहा। उन्होंने 76 गेंदों का सामना करते हुए 90 रन ठोक दिए, जिसमें उन्होंने आठ चौके और पांच शानदार छक्के उड़ाए। उनके साथ ही मैक्कुलम ने भी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को नहीं बख्शा और महज 29 गेंदों में 44 रन जड़ दिए। मैक्कुलम ने पांच चौके और तीन छक्के लगाए।

हेनरी निकोलस भी पीछे नहीं रहे और उन्होंने भी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की पिटाई करते हुए 67 गेंदों में 61 रन बनाए। उन्होंने छह चौके और एक चौका लगाया। मिचेल सैंटनर ने 35 रन का योगदान दिया।

गेंदबाजों के बाद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज भी धराशायी
ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की बुरी पिटाई के बाद टीम को बल्लेबाजों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी, लेकिन उन्होंने भी निराश किया। 40 रन पर ही उनकी आधी टीम पैवेलियन लौट गई, वहीं 120 रन तक उनके सात खिलाड़ी चलते बने। दरअसल टीम इंडिया के खिलाफ वनडे सीरीज में मिली जीत में उनकी बल्लेबाजी का ही मुख्य योगदान था, लेकिन न्यूजीलैंड की घातक बॉलिंग के आगे वे नहीं चल पाएmartin-guptill_650x488_81440351537

LEAVE A REPLY