.और यजमानों की प्रेम- विवाह कराने के बाद भी केस के चक्कर में ‘पंडित’ जी फंस गए हैं। पंडित के साथ-साथ आठ लोगों पर कोर्ट में मुकदमा दायर कराया गया है। यह मुकदमा विजयीपुर थाने के हरपुर गांव की एक महिला ने दर्ज कराई है। उसने मुकदमा में बताया है कि उसकी शादी वर्ष 2012 में कटेया थाने के कोटवां खास टोला गणेशपुर गांव में हुआ था। शादी के कुछ दिनों के बाद उसका पति रोजी-रोटी तलाशने के लिए घर से बाहर चला गया। इस दौरान पड़ोस का एक युवक उससे संपर्क कर लिया। रोज-रोज उसके घर जाने के दौरान मिठी-मिठी बातें कर वह महिला को अपने जाल में फंसा लिया, फिर शादी करने की इच्छा जाहिर कर बिना शादी किए उसके साथ जिस्मानी सांध भी बनाना शुरू कर दिया।

संबंध बनाने के बाद वह महिला को अपने घर रखने लगा। इस दौरान दोनों को एकोटी भी हुई। बेटी होने के बाद उक्त युवक दहेज की मांग को लेकर उसे प्रताड़ित करने लगा। प्रताड़ना से तंग आकर महिला ने कोर्ट में मुकदमा दायर कर दिया। बाद में पंचायती के दौरान दोनों की शादी कराई गई। फिर शादी के बाद भी उसे प्रताड़ित किया गया। महिला ने बताया कि जिस पंडित ने उनकी शादी कराई थी, उनका कहना था कि उसे घर से निकाल दो तो वे सुंदर लड़की से उसकी शादी करा देंगे। इससे नाराज महिला ने पंडित समेत आठ लोगों पर कोर्ट में मुकदमा दायर कराया है।marriage-04-02-2016-1454567750_storyimage

LEAVE A REPLY