बेंगलुरु/नई दिल्ली. कर्नाटक की राजधानी में रोड एक्सीडेंट के बाद तंजानियाई लड़की की पिटाई के मामले में रंगभेद का आरोप लगा है। तंजानिया के हाई कमिश्नर जॉन डब्ल्यू एच किजाजी ने गुरुवार को कहा कि स्टूडेंट ब्लैक थी, इसलिए हमले का शिकार हुई। हालांकि, कर्नाटक सरकार ने इस दावे को खारिज कर दिया कि यह नस्ली हमला है और भीड़ ने लड़की के कपड़े फाड़कर उससे परेड करवाई थी।
हादसे वक्त कौन था लड़की के साथ और क्या हैं आरोप…?
– यह घटना रविवार की है। बेंगलुरु के गणपतिनगर में सूडान के एक स्टूडेंट ने कार से कपल को टक्कर मार दी थी।
– इसमें सबीन ताज नाम की एक महिला की मौत हो गई थी, जबकि उनके पति सनुल्लाह जख्मी हो गए।
– इसके बाद भीड़ ने कार से लड़के और उसके साथ बैठी तंजानियाई लड़की (21 साल) को उतारा और गाड़ी में आग लगा दी।
– लोगों ने सूडानी लड़के पर शराब पीकर खतरनाक तरीके से कार चलाने का आरोप लगाया।
– लड़की के मुताबिक, भीड़ ने उसके साथ बदतमीजी की और उसके कपड़े भी फाड़ दिए।
– लड़की के मुताबिक, उसे हाफ नेकेड कर भीड़ ने परेड भी करवाई। एक लड़के ने जब उसका शरीर ढकने की कोशिश की, तो उसे भी मारा गया।
– विक्टिम की शिकायत पर पुलिस ने रिपोर्ट में दर्ज कर ली है। उधर, सूडानी स्टूडेंट मोहम्मद अहद को अरेस्ट कर लिया गया है।
– कार जलाने के मामले में भीड़ के खिलाफ भी केस फाइल किया गया है।
गुरुवार के अपडेट्स…
– इस मामले में पांच लोगों को अरेस्ट किया गया है।
– सीएम सिद्धरमैया ने कहा, ”सुषमा जी ने फोन किया था। उन्हें मामले की जानकारी दे दी गई है। आरोपियों को अरेस्ट किया जा रहा है।”
– फॉरेन मिनिस्ट्री के बाद होम मिनिस्ट्री ने इस मामले में 24 घंटे के भीतर कर्नाटक सरकार से रिपोर्ट तलब की है।
– कर्नाटक के डीजीपी ओम प्रकाश ने कहा कि इस मामले में लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी।
– उन्होंने कहा, ”लड़की ने यह बयान नहीं दिया था कि उसके कपड़े फाड़े गए और उससे परेड कराई गई।”
– कर्नाटक के होम मिनिस्टर ने भी लड़की के कपड़े फाड़े जाने के आरोपों से इनकार किया है।
राहुल ने फौरन रिपोर्ट मांगी
– कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी ने कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार से इस मामले पर रिपोर्ट मांगी है।
– कांग्रेस जनरल सेक्रेटरी दिग्विजय सिंह ने गुरुवार ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और कहा कि कांग्रेस इस घटना की निंदा करती है।
– भारत सरकार के सामने तंजानिया की ओर से यह मामला उठाने के बाद सुषमा स्वराज ने इसे शर्मनाक बताया था।
– उधर, पुलिस इस मामले में कुछ और लोगों से पूछताछ कर रही है।
तंजानिया हाई कमीशन ने उठाया मामला
– तंजानिया के हाई कमीशन ने इस मामले को लेकर फॉरेन मिनिस्ट्री को एक नोट भेजा है।
– इसमें लड़की से बदतमीजी करने वाले दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात है।
हम भारतीयों से डरे हुए हैं
– विक्टिम को पुलिस मेडिकल जांच के लिए ले गई है।
– उसने कहा, “मेरे साथ जो हुआ है, उसके बाद अब हम अपने आस-पास के हर भारतीय से डरे हुए हैं।”

tan_1454526441

LEAVE A REPLY