आगर में बुधवार को एक महिला ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया. लेकिन ये दोनों बच्चे एक ही लि‍वर के सहारे जिंदा हैं. बच्चों के मां-बाप बेहद गरीब परिवार के है.

अस्पताल ने भर्ती करने से मना किया
जुड़वा बच्चों को जन्म देने वाली महिला को पहले हरैरा सिरसांगज के एक अस्पताल ले जाया गया था लेकिन उसकी गम्भीर हालत देखते हुए उसे भर्ती नहीं किया गया. इसके बाद महिला के परिजन उसे आगरा के जयदेवी अस्पताल में ले गए, जहां महिला ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया. हालांकि यहां बच्चों और मां को खतरे से बाहर बताया गया. लेकिन बच्चों का शरीर आपस में जुड़ा हुआ है और वे दोनों एक ही गुर्दे के सहारे जी रहे हैं.

बच्चों का ऑपरेशन 34 हफ्तों में होना जरूरी है. यह ऑपरेशन या तो दिल्ली के एम्स में या फिर सर गंगाराम अस्पताल में हो सकता है. लेकिन बच्चों के पिता प्रदीप मजदूरी कर के अपना परिवार चलाते हैं. आर्थिक स्थिति सही न होने की वजह से प्रदीप और मोहिनी के पास बच्चों के ऑपरेशन के लिए पैसे नहीं है. इस बात से चिन्तित प्रदीप ने सरकार से ऑपरेशन का खर्चा उठाने के लिए गुहार लगाई है.

agra_145460704574_650x425_020416110552

LEAVE A REPLY