उत्तरप्रदेश सरकार ने होम गार्डों के भत्ते में लगभग 33 फीसदी का इजाफा किया है. भत्ते की इस वृद्धि से उन लगभग एक लाख स्वयंसेवियों को लाभ होगा जो कानून-व्यवस्था बनाने में, यातायात प्रबंधन में और राहत एवं बचाव अभियानों में राज्य पुलिस को एक बड़ा सहयोग उपलब्ध करवाते हैं.

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (होमगार्ड) प्रमोद कुमार तिवारी ने यहां कहा, ‘होमगार्डों को दिए जाने वाले भत्ते को 225 रुपए से बढ़ाकर 300 रूपए कर दिया गया है. नयी दरें एक अप्रैल से लागू होंगी. राज्य में होमगार्डों के भत्तों में यह अब तक का सबसे बड़ा इजाफा है.’ उन्होंने कहा, ‘इस समय लगभग 93 हजार स्वयंसेवी होमगार्डों के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे हैं. उन्होंने कानून-व्यवस्था बनाए रखने में अपनी अमूल्य सेवा दी है. राज्य सरकार की ओर से उठाया गया यह कदम उनके योगदान की सराहना का प्रतीक है.’

तिवारी ने कहा, ‘राज्य सरकार होमगार्डों के कल्याण के प्रति ‘बेहद संवेदनशील’ रही है और उसने रक्षा की इस दूसरी पंक्ति के लिए अपनी सेवाएं उपलब्ध करवाने वाले इन लोगों के कल्याण के लिए कई कदम उठाए हैं. यह सेवा वर्ष 1962 के भारत-चीन युद्ध के बाद से अस्तित्व में आई.

lup-2-3_647_100315084_145466260685_650x425_020516022721

LEAVE A REPLY