राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) अपना साहित्य लेकर आया है. मात्र 10 से 30 रुपये में. अब वह इसे दिल्ली में बांटने जा रहा है. संघ के वॉलंटियर शहरभर में रविवार को 1000 जगहों पर ये किताबें बेचेंगे. संघ ने 10 लाख रुपये की ऐसी 40,000 किताबें बेचने के लिए रखी हैं.

बच्चों में बांटेंगे ये किताबें
इन किताबों की थीम संघ की विचारधारा और ‘सांस्कृतिक राष्ट्रवाद’ पर रखी गई है. संघ की योजना है कि ये किताबें महिलाओं, बच्चों और युवाओं के बीच फैलाई जाएं. दिल्ली प्रांत प्रचारक राजीव तुली ने यह जानकारी दी. इसके कुछ ही दिन पहले दिल्ली में बीजेपी राष्ट्रीय मुख्यालय में लाइब्रेरी भी बनाई गई थी.

5 किताबें, पांचों में क्या?

  1. हनुमानः छात्रों के लिए.
  2. गीताः छात्रों के लिए.
  3. लघु कथाएंः बच्चों के लिए.
  4. भारत की वीर क्रांतिकारी महिलाएंः महिलाओं के लिए.
  5. RSS एक दृष्टिकोणः युवाओं के लिए.

हिंदी, अंग्रेजी दोनों में हैं किताबें
ये किताबें हिंदी, अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध होंगी. सूत्रों ने बताया कि संघ का मकसद कॉन्वेंट स्कूलों में जाने वाले बच्चों तक पहुंच बनाना है. इसलिए किताबें अंग्रेजी में रखी गई हैं. दिल्ली यूनिवर्सिटी में तो शुक्रवार से ही स्टॉल लगा ली गई थी और बिक्री जारी है.

तीसरा प्रचार अभियान
तुली ने बताया कि इस साल देश में तीसरा और दिल्ली में पहला प्रचार अभियान है. दिल्ली में वसंत पंचमी और सरस्वती पूजा के दिन भी प्रचार अभियान चलाया जाएगा. तुली ने कहा कि ‘इसे राजनीति से अलग रखा जाना चाहिए. हमारा मकसद यह है कि बच्चों और युवाओं तक सही किताबें पहुंचें.’

lrss_650_020616104220

LEAVE A REPLY