3 साल तक भारतीय जेल में रहे सुशील कोइराला, जानें 7 बातें

नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री सुशील कोइराला का सोमवार देर रात निधन हो गया। कोइराला को अवरूद्ध शांति प्रक्रिया को पूरा करने के लिए बीते वर्ष सितंबर में देश के नए संविधान को लागू करने का श्रेय दिया जाता है। कोइराला का जीवन भी उतार चढ़ाव भरा रहा है।

एक नजर उनके जीवन जुडे़ कुछ पहलुओं पर –

1- अपनी सादगी के लिए मशहूर नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री एवं नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष सुशील कोइराला अविवाहित थे।

2- वह फिल्मी दुनिया में कदम रखना चाहते थे लेकिन नीयति को कुछ और मंजूर था। वह देश के प्रधानमंत्री बन गये। वह सादगी के बादशाह थे और उनका अपना कोई घर नहीं था।

नेपाल के पूर्व पीएम सुशील कोइराला का निधन, मोदी ने जताया दुख

3- कोइराला का जन्म प्रतिशष्ठित कोइराला परिवार में 12 अगस्त 1939 को नेपाल में मुरांग जिले के विराटनगर में हुआ था। वह 11 फरवरी 2014 से 10 अक्टूबर 2015 तक देश के प्रधानमंत्री रहे।

4- वह वर्ष 2010 से नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष रहे थे। कोइराला वर्ष 1952 में नेपाली कांग्रेस में शामिल हुए थे और पार्टी अध्यक्ष बनने से पहले विभिन्न पदों पर पार्टी के लिए काम करते रहे।

5- कोइराला पूर्व प्रधानमंत्रियों मात्रिका प्रसाद कोइराला, गिरिजा प्रसाद कोइराला और विश्वेश्वर प्रसाद कोइराला के चचेरे भाई थे।

6- काइराला नेपाली कांग्रेस की लोकतांत्रिक और सामाजिक विचारधारा से प्रभावित होकर वर्ष 1954 में पार्टी में शामिल हुए थे। वर्ष 1960 में देश में राजशाही की वजह से उन्हें 16 साल तक भारत में राजनीतिक निवार्सन का जीवन बिताना पड़ा।

7- पार्टी की आधिकारिक पत्रिका ‘‘तरुण’’ के संपादक रहे पूर्व प्रधानमंत्री वर्ष 1979 में विमान अपहरण में शामिल होने के कारण तीन साल तक भारतीय जेल में भी रहे।

LEAVE A REPLY