लड़के नहीं चाहते कि लड़कियां प्रपोज करने के लिए आगे आएं

क्या लड़कियों का लड़कों को प्रपोज करना सही है? इस सवाल का अगर जवाब तलाशा जाए तो कई तरह के विचार आएंगे। मगर लाइव साइंस नाम पोर्टल ने इस सवाल के साथ एक सर्वे किया और पाया कि ज्यादातर लोगों ने इसे गलत कहा है। यानी दुनिया को ये नहीं पसंद कि एक लड़की किसी लड़के को प्रपोज करे।

ऑफिस, घर या समाज आज हर जगह हर काम हर मुकाम पर महिलाओं की भागीदारी को लेकर सोच में बड़ा बदलाव आया है। लेकिन अगर शादी या प्यार मोहब्बत की बात आए तो हमारा पुरुष प्रधान समाज आज भी यही सोचता है कि महिलाएं शर्मीली स्वभाव और कम बोलने वाली होनी चाहिए। ये खुलासा हुआ है एक रिसर्च में।

अगर एक अध्ययन की बात करें तो यूनिवर्सिटी के छात्रों से जब इस बाबत पूछा गया कि क्या कोई लड़की आपको प्रपोज करे तो ठीक होगा। जवाब में एक ने भी नहीं कहा कि लड़की का प्रपोज करना सही है। जबकि 60 प्रतिशत ने लड़कियों ने शादी के बाद अपना सरनेम बदलने की चाहत को स्वीकारा। जबकि 64 लड़के नहीं चाहते कि वे लड़कियों के लिए शादी के बाद अपना सरनेम बदलें।

कौन किसको करे प्रपोज?
बात प्रपोज करने की हो तो लाइव साइंस नाम की वेबसाइट ने जब इस बाबत सर्वे किया तो 4316 लोगों के सर्वे में 32% लोगों ने कहा कि पुरुषों को ही प्रपोज करना चाहिए जबकि 61.86 प्रतिशत लोगों ने कहा कि दुनिया आज स्वतंत्र है। कोई भी प्रपोज करे कोई फर्क नहीं पड़ता। बस प्यार होना चाहिए।

LEAVE A REPLY