बिहार से आकर दिल्ली में करते थे चोरी

लाजपतनगर थाना पुलिस ने बिहार से आकर दिल्ली में चोरी करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान 24 वर्षीय मौसीम, 24 वर्षीय अशरफ, 25 वर्षीय मुकीम, 24 वर्षीय मुन्ना और 28 वर्षीय महताब के रूप में की गई है।

आरोपियों ने बीते तीन महीने में दक्षिणी दिल्ली में छह बड़ी चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया। आरोपियों के पास से 20 से ज्यादा सोने की अंगूठी, सोने की घड़ी, कई लाख रुपये नगदी और चाभियों का गुच्छा मिला है।

दक्षिण-पूर्वी जिले के पुलिस उपायुक्त एमएस रंधावा ने बताया कि पिछले कुछ महीनों में इलाके में  चोरी की घटनाएं बढ़ी थीं। इसे देखते हुए लाजपत नगर एसीपी सतीश केन की देखरेख में सब इंस्पेक्टर महेश और कांस्टेबल रविंद्र की विशेष टीम गठित की गई। टीम के सदस्यों को शनिवार सुबह सूचना मिली की पांच लोग एक बंद घर में छत के रास्ते दाखिल हुए हैं। सूचना मिलने के बाद टीम रवाना हुई और पांचों को मौके से पकड़ लिया गया।

मकान की छत से दाखिले होते थे आरोपी
पुलिस के अनुसार, आरोपी पहले घर की रेकी करते थे और ऐसे घर को चुनते थे जो किसी होटल से सटा हुआ हो। इसके बाद वह होटल में कमरा बुक करते थे और मौका पाकर होटल की छत से दूसरे घर की छत पर जाते थे। इसके बाद उस घर में चोरी की वारदात करते थे।

तीन साल से सक्रिय है गिरोह
पुलिस सूत्रों के अनुसार, आरोपियों ने बताया कि उनका गिरोह पिछले तीन साल से दक्षिणी दिल्ली में सक्रिय है। इस दौरान उन्होंने इस तरह की दर्जन भर चोरियां की हैं। पुलिस आरोपियों से अन्य चोरियों के बारे में पता लगा रही है।

घटना के बाद फुटेज भी ले जाते थे आरोपी
पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी काफी शातिर थे। वह चोरी की घटना के बाद सीसीटीवी फुटेज भी अपने साथ ले जाते थे, इसलिए पिछले तीन वर्षों से वह पकड़ में नहीं आए। शनिवार को भी आरोपी चोरी करने के बाद वहां लगे सीसीटीवी का डीवीआर लेकर जा रहे थे। ताकि पुलिस सीसीटीवी फुटेज की जांच नहीं कर सके। पुलिस ने आरोपियों के पास से डीवीआर भी बरामद किया है।

LEAVE A REPLY