गाजियाबाद के कौशांबी मेट्रो स्टेशन के पास से snapdeal की इंजीनियर दीप्ति सरना का अपहरण एक तरफा प्यार में हुआ था। यह जानकारी सूत्रों के हवाले से आ रही है। पुलिस ने इस मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है। पुलिस आज दोपहर एक बजे प्रेसवार्ता कर पूरे प्रकरण का खुलासा करेगी।

पुलिस ने अब तक दीप्ति को सौ से अधिक ऑटो चालकों की तस्वीरें दिखाई है। इसमें किसी ऑटो चालक की पहचान नहीं हो पाई है। रविवार शाम को एसएसपी दीप्ति सरना को घटनास्थल पर ले गए और पूरे घटनाक्रम का डेमो किया। इसके लिए 45 मिनट में करीब 8 किलोमीटर तक पुलिस ने ठीक वैसे ही डेमो किया जैसा कि घटना वाले दिन हुआ था।

मेरठ रोड से लेकर मोरटी तक बुधवार रात की घटना की पुनरावृत्ति कराया गया। रविवार को भी दीप्ति मीडिया के सामने नहीं आई। उसके भाई ने बताया कि वह आराम कर रही है और पहले से बेहतर है। कविनगर की रहने वाली दीप्ति सरना को बुधवार रात मेरठ रोड से ऑटो सवार बदमाशों ने अपहरण कर लिया था। इसके 34 घंटे बाद वह घर वापस लौटी थी। एसएसपी धर्मेंद्र सिंह का कहना है कि हम लोग इस घटना के खुलासा करने के बहुत करीब हैं और रविवार को घटनाक्रम का डेमो कराया गया है। इसके बाद कुछ और भी तथ्य निकल कर सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सोमवार तक इस मामले की तस्वीर साफ हो जाएगी। उन्होंने स्पष्ट कहा कि इसमें पेशेवर बदमाश नहीं है और  कोई जानकार ही है।

बयान बदल रही है दीप्ति
अपहरण के बाद घर लौटने पर दीप्ति ने एसएसपी को बताया था कि बदमाशों ने उसके आंख पर हमेशा पट्टी बांधे रखा था। इस कारण उसे रास्ते, स्थान व बदमाशों का पता नहीं चला। रविवार को एसएसपी ने कहा कि दीप्ति ने बताया कि राजनगर एक्सटेंशन से अगवा करने के बाद बदमाशों ने आंख पर पट्टी बांधी थी लेकिन बीच-बीच में खोल भी देते थे। इसके बाद पुलिस ने ऑटो चालकों की तस्वीरें दिखाईं।dipti-15-02-2016-1455514655_storyimage

LEAVE A REPLY