Dhoni_2-16-02-2016-1455598310_storyimageकैप्टन कूल महेंद्र सिंह धौनी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में आठ साल तक पीली जर्सी में नजर आए और चेन्नई सुपरकिंग्स की कप्तानी करते रहे। लेकिन इस बार उनकी टीम भी नई है और जर्सी भी। धौनी राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स की ओर से खेलेंगे।

धौनी के जहन में चेन्नई सुपरकिंग्स की याद अभी भी ताजा है। उनका कहना है कि पुरानी टीम को भुला पाना बहुत मुश्किल है। धौनी राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स के मालिक संजीव गोयंका के साथ टीम की ऑफिशियल जर्सी लॉन्च की।

माही के नाम से मशहूर धौनी ने इस मौके पर बेहद भावुकता के साथ कहा, ‘आईपीएल शुरू होने के बाद से मैंने आठ साल चेन्नई टीम के साथ गुजारे। अब नई टीम के साथ खेलना कुछ अजीब लग रहा है। चेन्नई के लोगों से मुझे और टीम को बहुत प्यार मिला था। लेकिन एक प्रोफेशनल होने के नाते हमें जीवन में आगे बढ़ना होता है।’

धौनी ने कहा, ‘चेन्नई से हटकर एक नई टीम के साथ उतरने पर मैं कुछ अलग महसूस कर रहा हूं लेकिन मैं शुक्रगुजार हूं पुणे का, जिन्होंने मुझे अपनी टीम में चुना और टीम का कप्तान बनाया। एक प्रोफेशनल होने के नाते हमारा यह दायित्व होता है कि हम चाहे किसी फ्रेंचाइजी से खेलें या फिर अपने देश की टीम से खेलें हमें अपना शत प्रतिशत प्रदर्शन देना होता है।’

‘पुणे टीम अब मेरे लिए खास’
धौनी ने साथ ही कहा, ‘अगर मैं यह कहूं कि मैं पिछली टीम को भुलाकर आगे बढ़ गया हूं तो यह झूठ होगा। मेरा हमेशा एक ही लक्ष्य रहता है कि मैं जिस टीम के साथ खेलूं उसपर अपना पूरा ध्यान केंद्रित करूं। अब जब मैं पुणे टीम के साथ जुड़ गया हूं तो मेरे लिए यह टीम खास बन गई है, हमें मैदान पर एक टीम के रूप में अच्छा प्रदर्शन करना होगा और साथ ही टीम मालिक के भरोसे पर खरा उतरना होगा।’Dhoni_2pic

‘आईपीएल से मिली युवा क्रिकेटरों को पहचान और पैसा’
आईपीएल की छवि पर लगे दाग के बारे में पूछने पर भारतीय सीमित ओवरों के कप्तान ने कहा, ‘मैं मानता हूं कि आईपीएल की छवि पर कुछ दाग लगा है लेकिन आपको इसके सकारात्मक पहलुओं की तरफ भी देखना होगा। इससे क्रिकेटरों को कितना फायदा हुआ है। उन्हें पहचान और पैसा दोनों मिले हैं। उन्हें हजारों दर्शकों के सामने 14 मैच खेलने मिलते हैं जिसमें वे दिखा सकते हैं कि दबाव में उनमें अच्छा प्रदर्शन करने की क्षमता है या नहीं।’

‘रिपोर्ट के बारे में बीसीसीआई से पूछें’
जस्टिस लोढा समिति की आईपीएल छह में स्पॉट फिक्सिंग को लेकर रिपोर्ट के बारे में कैप्टन कूल ने सिर्फ इतना ही कहा, ‘यह रिपोर्ट मुझे नहीं बीसीसीआई को मिली है और बेहतर होगा कि इस बारे में बीसीसीआई से ही पूछा जाए।’ इस बारे में पुणे टीम के मालिक संजीव गोयंका ने भी कहा, ‘हम हमेशा इस बात में यकीन रखते हैं कि क्रिकेट को उसके नियमों के हिसाब से खेला जाए। आईपीएल नियमों के हिसाब से खेला जाता है और हमें माही में पूरा भरोसा है।’

‘खिलाड़ियों की नीलामी से पता चलता है कि हमने कैसी टीम बनाई’
यह पूछने पर कि वह आईपीएल की अपनी पिछली टीम चेन्नई टीम के खिलाड़ियों सुरेश रैना, रवींद्र जडेजा और ब्रेंडन मैक्कलम को कितना मिस करेंगे, धौनी ने कहा, ‘हमने एक टीम को बनाने में आठ साल का समय लगाया। हर साल एक दो खिलाड़ी बदलते थे लेकिन कोर ग्रुप वही रहता था। हमारे खिलाड़ी किस कीमत पर ड्राफ्ट या नीलामी में दूसरी टीमों के पास गए उसी से आप अंदाजा लगा पाएंगे कि हमने कैसी टीम बनाई।’नई टीम के Dhoni_3picहिसाब से खुद को ढालना होगा’
अपनी पुणे टीम पर चेन्नई के प्रभाव के बारे में पूछे जाने पर कप्तान ने कहा, ‘आईपीएल नौ में दो नई टीमें आई हैं और जो पुरानी टीमें थीं उनका कहीं न कहीं असर तो नई टीमों पर दिखाई देगा क्योंकि उन्हीं टीमों में से खिलाड़ी ड्राफ्ट में नई टीमों में गए हैं। लेकिन अब हमारे पास दो नए स्थान होंगे, हमें उनके विकेट देखने हैं और खुद को नई टीम के हिसाब से ढालना है।’

LEAVE A REPLY