नर्सरी दाखिले की पहली मेरिट सूची स्कूलों ने सोमवार को जारी कर दी। स्कूलों ने वेबसाइट और नोटिस बोर्ड पर चयनति छात्रों के नाम अपलोड कर दिए हैं। वहीं ईडब्ल्यूएस वर्ग की लॉटरी सरकार ने ऑनलाइन की है। इसमें चयनित छात्रों की जानकारी एसएमएस के जरिये अभिभावकों को भेजी जा रही है।

हालांकि जिन ईडब्ल्यूएस के अभिभावकों ने ऑनलाइन आवेदन किया था वे सोमवार को असमंजस में रहे क्योंकिhttp://www.edudel.nic.in/ पर मेरिट सूची जारी नहीं की गई। नतीजतन, अभिभावक दिन भर निदेशालय की वेबसाइट पर मेरिट सूची खोजते रहे। उधर, निदेशालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शाम चार बजे लॉटरी हुई। लॉटरी की प्रक्रिया पूरी होने से 24 घंटे के भीतर अभिभावकों को एसएमएस के जरिये सीटों की जानकारी भेजी जाएगी। ऐसे में उन्हें परेशान नहीं होना चाहिए। एसएमएस का इंतजार करना चाहिए।

वहीं निजी स्कूलों ने सामान्य वर्ग की सूची जारी करते हुए दाखिला देना शुरू कर दिया है। पहली मेरिट के आधार पर 22 तक दाखिला होगा। 23 फरवरी को तमाम स्कूलों को पहली मेरिट के दाखिले का ब्योरा सार्वजनिक करना होगा। एडमिशन नर्सरी डॉट कॉम के सुमित वोहरा कहते हैं कि कई असमंजस की स्थिति बनी रही, निदेशालय को सभी सीटों का ब्योरा लॉटरी के तुरंत बाद अपनी वेबसाइट पर अपलोड करना चाहिए था।

कुछ स्कूल में नहीं आए पर्यवेक्षक: शिक्षा का अधिकार कानून के तहत आने वाले करीब 400 स्कूलों में ईडब्ल्यूएस वर्ग का ऑफलाइन आवेदन हुआ था। इन स्कूलों में ऑपलाइन लॉटरी की व्यवस्था है लेकिन इनमें से कुछ ऐसे स्कूल थे जहां ड्रॉ नहीं हो पाया। पश्चिमी दिल्ली के एक नामी स्कूल में सरकारी पर्यवेक्षक न आने की वजह से लॉटरी की प्रक्रिया नहीं हो पाई। बता दें कि इस श्रेणी में 73 हजार से अधिक आवेदन आए थे। कुल सीटें 23 हजार से अधिक हैं।

LEAVE A REPLY