एयर होस्टेस नीरजा भनोट के जीवन पर आधारित  फिल्म ‘नीरजा’ के पाकिस्तान में रिलीज होने पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। मीडिया में यह खबर आई थी कि पाकिस्तान में ‘नीरजा’ के प्रदर्शन पर रोक लगा दी गई है।

फिल्म के निर्देशक राम माधवानी ने सफाई देते हुए कहा, ‘मुझे नहीं पता कि भारतीय मीडिया में यह खबर कहां से आई है,  पाकिस्तान की सेंसर बोर्ड की तरफ से आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है। हमें इस बारे में मंगलवार या बुधवार तक पता चलेगा।

फिल्म में ‘नीरजा’ की मां का किरदार निभा रही शबाना आजमी ने कहा, ‘सच्चाई तो यह है कि पाकिस्तान में फिल्म सेंसर बोर्ड ने अभी ‘नीरजा’ को देखा ही नहीं है। हमें उनकी प्रतिक्रिया का इंतजार है। मुझे पूरा विश्वास है कि पाकिस्तान में इस फिल्म को कोई परेशानी नहीं होगी।’

उन्होंने कहा, ” नीरजा को भारत सरकार ने अशोक चक्र से सम्मानित किया है तो वहीं पाकिस्तान सरकार ने भी उनकी बहादुरी को सलाम करते हुए मेडल दिया है और अमेरिका सरकार ने भी उनकी बहादुरी को सम्मानित किया था। ऐसा पहली बार हुआ था, जब तीन देशों की सरकार ने किसी महिला को बहादुरी के लिए सम्मानित किया हो।’

शबाना ने कहा कि फिल्म में कई ऐसे संवाद है, जिसमें पाकिस्तान को साकारात्मक तरीके से दिखाया गया है। उन्होंने कहा ‘मुझे पूरा विश्वास है कि जब वे फिल्म देखेंगे तो इस में कोई कमी नजर नहीं आएगी।’

LEAVE A REPLY