शैलेश कुमार पाण्डेय गग्ग

गोपालगंज मंगलवार को विद्यालय में हंगामा कर रहे छात्रों को समझाने पहुंचे जिला शिक्षा पदाधिकारी अशोक कुमार,डीपीओ राजकिशोर सिंह और बीइओ तारा सिंह को छात्रों का घंटों कोपभाजन बनना पड़ा। छात्रों के मांग पर जिला शिक्षा पदाधिकारी अशोक कुमार ने हेडमास्टर लतीफ अंसारी को तत्काल प्रभाव ले निलंबित कर दिया, वही बाकी शिक्षकों को दुसरे विद्यालय में स्थानातंरण करने के अस्वाशन के बाद छात्रों का हंगामा ख़त्म हुआ। मांझा उत्क्रमित मध्य विद्यालय संतपुर में छात्रवृति की राशि से वंचित एंव मील डे मील बंद किये जाने को लेकर छात्रों ने मंगलवार को भी स्कूल में तालाबंदी कर स्कूल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। स्कूल में मुख्य गेट पर ताला बंदी के कारण पठन-पाठन पुरी तरह से ठप रहा। विद्यालय में हंगामा कर रहे छात्रों का आरोप था कि विद्यालय में गत वर्ष छात्रवृति राशि का आवंटन कल्याण विभाग द्वारा दिया गया था। लेकिन अब तक आवंटित राशि का वितरण छात्र-छात्राओं के बीच नहीं किया गया है। राशि स्कूल के हेडमास्टर घोटाला करने के फिराक में है। छात्रों का सीधे आरोप था की विद्यालय में संचालित एमडीएम योजना में भी भारी पैमाने पर गड़बड़ी किया जाता हैं। फर्जीवाड़ा कर छात्रों का उपस्तिथि दिखा कर एमडीएम योजना में लूट पाट किया जाता हैं,मीनू के हिसाब ले खाना नहीं डी जाती हैं,जब इसका विरोध छात्र करते हैं तो शिक्षक गाली गलोज करते हैं। इसकी शिकायत बीइओ तारा सिंह से कई बार किया गया लेकिन विद्यालय के हेडमास्टर से मिलकर कारवाई करने के बजाय पैसा लेकर हेडमास्टर को बचाने में लगी रहती हैं। इतना ही नहीं बीमारी का बहाना बनाकर हेडमास्टर गोपालगंज में अपना प्रतिनियुक्ति करा लिया हैं और जूनियर शिक्षक राज कुमार सिंह को मौखिक चार्ज दे दिया हैं जो एमडीएम योजना बिना बनाये ही चावल को बेच दिया जाता हैं। दिया जबकि छात्रों के शिकायत सुनने के बाद जिला शिक्षा पदाधिकारी के हेडमास्टर को निलम्बित करने बाकी शिक्षकों दुसरे विद्यालय में स्थानातरण किये जाने की घोषणा के बाद छात्रों ने हंगामा खत्म कर विद्यालय के ताला खोल दिया।

LEAVE A REPLY