घायल श्रमिकों के स्वास्थ्य लाभ की कामना

बिलासपुर/16 फरवरी 2016/मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह ने आज बिलासपुर में छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के पीछे निर्माणाधीन न्यायिक प्रशिक्षण भवन के क्षतिग्रस्त होने पर मृतक मजदूर के प्रति शोक व्यक्त करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। साथ ही उन्होंने घायल श्रमिकांे के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की हैं। मुख्यमंत्री ने घायल श्रमिकों का उचित ईलाज कराने के निर्देश दिए है। डाॅ. सिंह ने निर्माण कार्यों से जुड़े सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि भवनों और निर्माण कार्यों के दौरान श्रमिकों की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए।

–00–

निर्माणाधीन भवन के छत गिरने से मृतक मजदूर के परिजन को 11 लाख रूपये की तत्काल सहायता

घायलों के इलाज की संपूर्ण व्यवस्था

बिलासपुर/16 फरवरी 2016/बिलासपुर स्थित छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय परिसर के पीछे की तरफ निर्माणाधीन भवन की छत गिरने से मृतक मजदूर के परिजन को मुख्यमंत्री के निर्देश पर तत्काल 10 लाख रूपये की राहत राशि उपलब्ध करायी जायेगी। साथ ही श्रम विभाग की ओर से एक लाख रूपये सहायता राशि दिया जायेगा। गंभीर रूप से घायल दो मरीजों को दो-दो लाख रूपये एवं शेष घायल मजदूरों के संपूर्ण ईलाज का खर्चा वहन की जायेगी। साथ ही उन्हें भी राहत राशि प्रदान की जायेगी। निर्माणाधीन भवन की गुणवत्ता जांच मुख्य तकनीकी परीक्षक से कराया जायेगा। इसके लिए रायपुर से विशेष टीम आयेगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह एवं मुख्य सचिव श्री विवेक ढांढ से बिलासपुर संभागायुक्त श्री सोनमणि बोरा ने इस संबंध में चर्चा की। तत्पश्चात् उनके निर्देश के अनुरूप उक्त कार्यवाही की जा रही है।

संभागायुक्त श्री सोनमणि बोरा ने आज इस घटना की जानकारी मिलते ही छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (सिम्स) एवं अपोलो अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायलों की उचित उपचार के लिए चिकित्सकों को निर्देशित किया। साथ ही उनकी कुशलक्षेम की जानकारी लेते हुए शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। उन्होंने यह भी बताया कि इस घटना के संबंध में न्याययिक जांच कराई जायेगी। इस दौरान छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के न्याययिक अधिकारी श्री गौतम चैरड़िया भी घायलों को देखने सिम्स पहुंचें।

–00–

मुख्य न्यायाधीश ने किया मौका मुआयना

उचित राहत प्रदान करने के निर्देश

बिलासपुर/16 फरवरी 016/छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के माननीय मुख्य न्यायाधीश श्री नवीन सिन्हा ने आज बिलासपुर स्थित छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय परिसर के पीछे की तरफ निर्माणाधीन भवन की छत गिरने से मृतक एवं घायल मजदूरों के संबंध में संभागायुक्त एवं जिला कलेक्टर को निर्देशित किया है कि तत्काल मौका मुआयना कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें। उन्होंने इस घटना के संबंध में जानकारी लेते रहे और अपने अधीनस्थ न्यायिक अधिकारियों को भी घायलों की जानकारी लेने के लिए कहा। उन्होंने मृतक के परिजन को उचित राहत राशि एवं घायलों को संपूर्ण उपचार के लिए निर्देशित किया है। मुख्य न्यायाधीश श्री सिन्हा, संभागायुक्त श्री सोनमणि बोरा एवं प्रभारी कलेक्टर श्री जे.पी.मौर्य ने घटना स्थल का जायजा भी लिया।

–00–

निर्माणाधीन भवन के छत गिरने से एक मजदूर की मृत्यु,

दो गंभीर एवं 15 सामान्य रूप से घायल

बिलासपुर/16 फरवरी 2016/संभागायुक्त श्री सोनमणि बोरा ने अवगत कराया है कि बिलासपुर स्थित छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय परिसर के पीछे की तरफ निर्माणाधीन भवन की छत गिरने से एक मजदूर की मृत्यु हो गई। वहीं दो गंभीर रूप से घायल मजदूरों को अपोलो अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है। सामान्य रूप से घायल 15 श्रमिक छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (सिम्स) में भर्ती हैं। एक मजदूर मामूली चोट लगने कारण तत्काल उपचार कराकर वापस चला गया है।

–00–

मरीजों के परिजनों के लिए आवश्यक व्यवस्था

बिलासपुर/16 फरवरी 2016/छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय परिसर के पीछे निर्माणाधीन भवन के छत गिरने से घायल मजदूर अस्पताल में भर्ती हैं। संभागायुक्त श्री सोनमणि बोरा ने   त्वरित कार्यवाही करते हुए भर्ती मरीजों के उपचार व्यवस्था के साथ ही उनके परिजनों के लिए रहने, खाने-पीने के साथ ही दैनिक उपयोग की चीजे टावेल, साबुन, टूथब्रश एवं जरूरी कपड़ा तत्काल उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिये हैं। इस संबंध में प्रदेश के मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह ने भी संभागायुक्त श्री बोरा से सतत् संपर्क कर जानकारी ली है। 5a760cbb-f227-49aa-9568-3f369c3fdefc 9a7766d7-a376-413f-bc4c-a58378daf8b8 c718e869-504d-404a-b1d2-6bcde20ef5e1

LEAVE A REPLY