सुप्रीम कोर्ट ने कन्हैया के जमानत मामले की सुनवाई करने से इनकार कर दिया है। इसके साथ ही उसे जमानत के लिए निचली अदालत में जाने के लिए कहा है। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को भी कन्हैया और उनके वकीलों को कड़ी सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश भी दिया।

सुप्रीम कोर्ट ने इस मौके पर ये भी कहा कि हम याचिका को तकनीकी वजह से नहीं सुन रहे हैं। मगर इसका मतलब ये न समझा जाए कि हम कन्हैया को जमानत देना चाहते हैं या नहीं देना चाहते हैं। राजू रामचंद्रन ने कन्हैया की तरह से वकालत करते हुए कहा कि सुरक्षा के लिहाज से सीधे सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। वहीं दिल्ली सरकार के वकील  सोले सुप्रीम कोर्ट ने दलील दी थी कि सीधे सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका पर सुनवाई नहीं की जा सकती।इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर इस तरह की याचिका को मंजूरी दी गई तो जमानत के लिए याचिका की बाढ़ आ जाएगी। कोर्ट ने कहा कि अगर पटियाला हाउस कोर्ट में ही सुरक्षा की उचित व्यवस्था की जाए तो क्यों न वहां पर ही सुनवाई के लिए आप जाएं।

गौरतलब हो कि जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार जिन्हें देशद्रोह मामले में गिरफ्तार किया गया है, उनकी जमानत याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी थी। कन्हैया की वकील वृंदा ग्रोवर ने बताया कि हाईकोर्ट में जल्द से जल्द याचिका दाखिल की जाएगी। उन्होंने संभावना जताई कि आज दोपहर 2 बजे इस पर सुनवाई भी होने की संभावना जताई है।

 

LEAVE A REPLY