शैलेश कुमार पाण्डेय )

  • जरूरत पड़ने पर अपनी हथेली को बनाएगी हथियार

छपरा/ बनियापुर. अब छत्राओ करेगी अपनी स्वयं अपनी रक्षा ,प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से आत्मरक्षा के दिए गये कई टिप्स ,  लोक महाविद्यालय हाफिजपुर की एनएसएस इकाई द्वारा हाईस्कूल कोल्हुआं परिसर में आयोजित सेल्फ डिफेंस कैंप के पांचवे दिन भी कॉलेज व स्कूल कि छात्राओं का उत्साह चरम पर रहा। आत्मविश्वास से लबरेज अपने दमदार पंच व किक से हमलावर को मुंहतोड़ जवाब देने के जज्बे से भरी छात्राओं की हुंकार से पूरा स्कूल परिसर घंटे भर तक गूंजता रहा। शनिवार को छात्राओं ने अपनी हथेली, एल्बो व घुटने का इस्तेमाल कारगर ढंग से हथियार के रूप मे करने का अभ्यास किया। वहीं छात्राओं ने प्रशिक्षक की देखरेख में अचानक सामने से कलाई, बाल या गर्दन पकड़े जाने की स्थिति में सामने वाले की पकड़ से खुद को मुक्त कराने के साथ ही उसपर हमला करने की तकनीक का भी जमकर अभ्यास किया।

स्पेशल कैंप का समापन

जेपीएम कॉलेज में चल रहे एनएसएस के स्पेशल कैंप शनिवार को छात्राओं के सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ समाप्त हो गया। मौके प्राचार्य प्रो. मीरा सिंह ने कहा कि एनएसएस छात्राओं में सेवाभाव लाने के साथ ही जिम्मेवार नागरिक बनाने के लिए भी प्रेरित करता है। उन्होंने कैंप में मिले अनुभव को औरों से शेयर करने को कहा।

pat_1456002232

नंदलाल सिंह कॉलेज में चल रहे एनएसएस शिविर के चौथे दिन स्वयंसेवकों ने करीब तीन सौ फीट लंबी सड़क बना दी। विज्ञान विभाग कक्ष से लेकर प्राचार्य कक्ष तक ईंटीकरण किया गया। प्राचार्य डॉ. केपी श्रीवास्तव ने कैडेटों के सेवाभाव की तारीफ की। कहा कि लंबे अर्से से कैंपस में अधूरी पड़ी सड़क का निर्माण कर स्वयंसेवकों ने सराहनीय कार्य किया है। बौद्धिक सत्र में डॉ. कमलजी, डॉ. राकेश कुमार श्रीवास्तव, अफताब आलम ने देश के उत्थान में साम्प्रदायिक सौहार्द के महत्व पर प्रकाश डाला

 

LEAVE A REPLY