अधिकारियों ने दिया 24 घंटे का समय, रविवार को होगी कार्रवाई

कानपुर। परेड स्थित मुर्गा मार्केट को हटा प्रदूषण मुक्त मार्केट बनाए जाने को लेकर दुकानें खाली कराने पहुंचे जिला व पुलिस प्रशासन को दुकानदारों के विरोध का सामना करना पड़ा। दुकानदार आधुनिक मार्केट बनाने के नाम पर मुर्गा मार्केट खाली कराने की बात पर अड़ गए और विरोध शुरू कर दिया। सैकड़ों की सख्यां में जुटे दुकानदारों का उग्र रूप देख अधिकारियों ने बवाल की आशंका को भांपते हुए भारी पुलिस बल के साथ
पीएसी व अन्य सुरक्षा कर्मियों को बुला लिया। घंटों बातचीत के बाद भी कोई निष्कर्ष नहीं निकला।
काफी प्रयास के बाद अधिकारियों ने हदीयत देकर दुकानदारों को 24 घंटे का समय दिया है। जिसके बाद मार्केट गिरा दी जाएगी। हालांकि की प्रशासन के रूख को देखते हुए छोटे दुकानदारों ने अपनी-अपनी दुकानें हटा ली थी।
परेड पर केडीए द्वारा नवीनीकरण कर मुर्गा मार्केट की एकता मार्केट बनाया जाना है। जगह पर सैकड़ों मीट कारोबारियों को पहले से ही दुकानें खाली के आदेश प्रशासन की ओर से दिए जा चुके हैं। लेकिन दुकानदार दुकानें छोड़ने को तैयार नहीं है। शनिवार को जिला जज अमर पाल सिंह, एसीएम प्रथम योगेन्द्र कुमार सहित अन्य विभागों को अधिकारी भारी पुलिस बल के साथ दुकानें खाली कराने पहुंचे। इस दौरान दुकानदार अपनी मांगों पर अड़ गए और दुकानें खाली पर आरपार की लड़ाई किए जाने की चेतावनी देने लगे। देखते ही देखते प्रशासन की कार्रवाई के खिलाफ सैकड़ों की सख्यां में दुकानदार व भीड़ सड़कों पर आ गई और विरोध शुरू कर दिया।
दुकानदारों पहले दूसरी जगह दुकानें दिए जाने की मांग पर अड़ गए। इस बीच भीड़ को बढ़ता व उग्र रूप देख बवाल की आशंका को भांप एडीएम सिटी अविनाश सिंह, एसपी पूर्वी, कई सर्किल सीओ व थानों की फोर्स भी आ गई। घंटों की बातचीत के बाद भी दुकानें
खाली कराए जाने पर प्रशासन और दुकानदारों के नतीजा खाली रहा। एडीएम सिटी का कहना है कि किसी भी हाल में दुकानों खाली कराई जाएगी, चाहे इसके लिए बल प्रयोग ही क्यों न करना पड़े। उन्होंने दुकानदारों को 24 घंटें में मार्केट खाली किए जाने की मौहलत दी है।
वहीं दुकानदारों किसी भी हाल में दुकानें खाली नहीं करने की बात कर रहे हैं। कई दुकानें हुई खाली प्रशासन का सख्त रूख देखते हुए कई दुकानदारों ने दुकानें खाली कर दी। उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा उन्हें आश्वासन दिया गया है कि मार्केट बनते ही दुकानें एलाट कर दी जाएगीb2b7f294-14c2-471b-bc09-ae9778cfe10c

LEAVE A REPLY