ईरान की एक अदालत ने भ्रष्टाचार के आरोप में एक अरबपति व्यापारी को मौत की सजा सुनाई है। अरबपति कारोबारी बाबक जनजानी पर तकरीबन तीन अरब डॉलर (20 हजार करोड़ रुपये लगभग) के घपले का आरोप है। जनजानी ईरान के सबसे धनी आदमी हैं।

42 वर्षीय जनजानी को दिसंबर 2013 में गिरफ्तार किया गया था। उन पर अपनी कंपनियों के माध्यम से तेल बेचकर पैसा कमाने का आरोप हैं। हालांकि, जनजानी ने इन आरोपों से इनकार किया है।

ईरान के न्याय विभाग के एक प्रवक्ता ने रविवार को बताया कि जनजानी को धोखाधड़ी और आर्थिक अपराधों का दोषी पाया गया है। अमेरीका और यूरोपीय यूनियन ने जनजानी को प्रतिबंध के दौर में तेल बेचने में ईरान की सहायता करने के लिए ब्लैकलिस्ट किया था।

उनके अलावा दो अन्य व्यक्तियों को भी मौत की सजा सुनाई गई है। उधर, जनजानी के वकील ने कहा है कि वह इस आदेश के खिलाफ अपील करेंगे।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ईरान के राष्ट्रपति हसन रोहानी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा था। उन्होंने कहा था कि जिन लोगों ने आर्थिक प्रतिबंधों के दौरान मौके का फायदा उठाया उन पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

LEAVE A REPLY