विवेक सिहं  कानपुर

सुनामी एक्सप्रेस न्यूज

कानपुर। कानपुर जिले के बिल्हौर में अधिवक्ता जीतेन्द्र की हत्या के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कोई चोट नहीं आने पर परिवार ने दोबारा शव का पोस्टमार्टम किए जाने की अपील वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) से की है। एसएसपी ने पीड़ि़त पक्ष की बात सुनकर मृतक का दोबारा पोस्टमार्टम करने को संस्तुति दे दी है।

उल्लेखनीय है कि बिल्हौर के शांतिनगर में पानी निकासी के विवाद पर बुधवार को सत्येन्द्र यादव का विवाद क्षेत्र के ही निवासी सुल्तान से हो गया। विवाद को बढ़ता देखकर सुल्तान ने चचेरे अधिवक्ता भाई जीतेन्द्र पाल को फोन करके बुला लिया। बढ़ते विवाद को शांत कराने पहुंचे अधिवक्ता को सत्येन्द्र व उसके साथियों ने पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। जिसके बाद अधिवक्ता के साथियों ने सड़क पर हाइवे जाम कर आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए जमकर हंगामा किया।

हंगामा की जानकारी होने पर एसपी ग्रामीण सुरेन्द्र नाथ तिवारी व सीओ समेत कई थाने की पुलिस पहुंची। एसपी ग्रामीण ने आक्रोशितों को शांत कराते हुए कार्रवाई का भरोसा दिलाया और फरार सत्येन्द्र व साथियों की तलाश में पुलिस टीम को लगाया। थानेदार जीवाराम के नेतृत्व में पुलिस टीम ने दो घंटे के भीतर ही फरार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और शव का पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं,डीप्टी सीएमओ डा. आर.पी. मिश्रा व दो अन्य डाक्टरों के पैनल ने मृतक जीतेन्द्र के शव का पंचनामा कराया। जहां रिपोर्ट में चोटें नहीं पायी गयी है, तथा हार्ट अटैक से मौत की पुष्टि होने की बात दर्शायी गयी है। जिसके बाद पीड़ित परिवार के परिजनों ने डाक्टरों के पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर सवालियां निशान लगाते हुए एसएसपी शलभ माथुर से शिकायत की। एसएसपी ने पीड़ि़त परिवार की शिकायत के आधार पर एक बार फिर से मृतक का पोस्टमार्टम कराने को कहा है। एसएसपी के आदेश के बाद  वीडियोग्राफी के साथ डाक्टरों की टीम  शव का पोस्टमार्टम कर रही है।2f5fbba4-a529-4ec0-8299-fd1a3a08b1e1

LEAVE A REPLY