हिमाचल-धर्मशाला: नगर निगम चुनावों का विरोध कर रही खनियारा बचाओ संघर्ष समिति ने भी अब चुनावी दंगल में अपना प्रत्याशी उतारा है। इससे पहले खनियारा बचाओ संघर्ष समिति खनियारा पंचायत को नगर निगम में शामिल करने का विरोध कर रही थी,

विरोध के वाबजूद खनियारा बचाओ संघर्ष समिति लड़ेगी चुनाव
विरोध के वाबजूद खनियारा बचाओ संघर्ष समिति लड़ेगी चुनाव

जिसको लेकर समिति ने हाईकोर्ट में भी याचिका दर्ज करवाई थी। नगर निगम चुनावों के लिए नामांकन दाखिल करवाने के पहले दिन खनियारा बचाओ संघर्ष समिति ने गांववासियों सहित एसडीएम आफिस के बाहर इसके विरोध में धरना भी दिया था। खनियारा बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष विकास कुमार छेत्री ने कहा कि हम कभी भी इन चुनावों में हिस्सा नहीं लेना चाहते थे, लेकिन यह चुनाव हम पर थोपा गया है। संघर्ष समिति का उद्देश्य चुनाव लड़ना नहीं, बल्कि खनियारा पंचायत को बचाना था। विकास कुमार छेत्री ने कहा कि गांव के कुछ नेताओं के गुप्त तरीके से नामांकन भरने के कारण ही उन्हें अपना प्रत्याशी चुनावों में उतारना पड़ा है। गांववासियों और संघर्ष समिति ने यह निर्णय लिया कि उन नेताओं ने आज तक गांव के लिए कुछ नहीं किया है और उन्हें पार्षद नियुक्त करने से अच्छा है कि वह अपना ही प्रत्याशी चुनावों में उतारें। खनियारा बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष ने कहा कि हमारे प्रत्याशी को जिताने का उद्देश्य पार्षद चुनना नहीं,
बल्कि सरकार को यह संदेश देना है कि कितने लोग खनियारा पंचायत को नगर निगम में शामिल करने के विरोध में हैं।

LEAVE A REPLY