धर्मशाला, 23 मार्च – जिला कोषाधिकारी एस.एस. गुलेरिया ने कहा कि 1 अप्रैल, 2016 से हिमाचल प्रदेश ऑनलाईन ट्रेजरी सिस्टम के माध्यम से जिले के समस्त आहरण एवं संवितरण अधिकारियों के सभी बिल वित्त विभाग की एकीकृत वित्तिय प्रबंधन प्रणाली ‘हिमकोष’ के माध्यम से ऑनलाईन तैयार एवं पारित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि 1 अप्रैल के उपरांत पुरानी पद्धति द्वारा तैयार किसी भी प्रकार के हस्तलिखित बिल स्वीकार नहीं किये जाएंगे। उन्होंने कांगड़ा जिला के समस्त आहरण एवं संवितरण अधिकारियों से इस कार्य के लिए अपने-अपने कार्यालय में इन्टरनेट, कम्प्यूटर तथा प्रिंटर की व्यवस्था सुनिश्चित बनाने का आग्रह किया है। 
    उन्होंने उक्त सभी अधिकारियों से अपने कार्यालयों में इस कार्य से संबंधित कर्मचारियों को ऑनलाईन ट्रेजरी सिस्टम के बारे में अवगत करवा कर निपुण बनाने का आग्रह किया है, ताकि नई प्रणाली के अंतर्गत कार्य करने में किसी तरह की असुविधा न हो। उन्होंने कहा कि प्रणाली के उपयोग के संदर्भ में किसी भी प्रकार के परामर्श एवं सहायता के लिए संबंधित उपकोष कार्यालय से सम्पर्क किया जा सकता है। 
    उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त, ई-सैलरी डेटाबेस में उपलब्ध कर्मचारियों से संबंधित सूचनाओं के अवलोकन में पाया गया है कि कई विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों का सेवा संबंधी विवरण या तो उपलब्ध नहीं है अथवा अधूरा एवं त्रुटिपूर्ण है। इसके कारण अधिकारियों एवं कर्मचारियों को उनके आयकर, भविष्य निधि आहरण, नई पेंशन प्रणाली से संबंधित प्रविष्टियां, स्थानांतरण पर अंतिम भुगतान प्रमाणपत्र, समयानुकूल सेवानिवृति तथा पेंशन इत्यादि महत्वपूर्ण विषयों को निपटाने में असुविधा होती है तथा ये मामले काफी समय तक लंबित रहते हैं। 
     उन्होंने सभी आहरण एवं संवितरण अधिकारियों से आग्रह किया कि वे अपने-अपने कार्यालयों से संबंधी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के व्यक्तिगत सेवा संबंधी विवरण उनकी सेवा पंजिकाओं में दर्ज ब्यौरों के साथ मिलान करके हिमकोष के ई-सैलरी सॉफ्टवेयर में 30 मार्च, 2016 तक दर्ज करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सेवा पंजिकाओं में दर्ज ब्यौरों के साथ मिलान करके कर्मचारी की जन्मतिथि, आधार, पैन, ई-मेल, मोबाइल नम्बर, जीपीएफ, प्रान संख्या, विभाग एवं पद में कार्यग्रहण तथा सेवानिवृति की तिथि, स्थाई एवं अस्थाई पते, उनके फोटो अपलोड करना, पद एवं वेतनमान इत्यादि की प्रविष्ठियां हिमकोष के ई-सैलरी सॉफ्टवेयर में करने का आग्रह किया है। 

LEAVE A REPLY