(शैलेश कुमार पाण्डेय )29_03_2016-28cpr8-c-2

छपरा : डीएम दीपक आनंद ने  समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित समीक्षा बैठक में उपविकास आयुक्त सुनील कुमार को निर्देश दिया कि सभी पेंशनधारियों का आधार कार्ड पेंशन वितरण कैंप में बनवाना सुनिश्चित कराएं. इसके लिए आधार कार्ड बनानेवाली सभी एजेंसियों को प्रखंडवार, पंचायतवार रोस्टर बना कर सख्त हिदायत देने का निर्देश दिया, ताकि कोई पेंशनधारी कैंप में आधार कार्ड बनवाने से वंचित न रहे. इसके लिए उन्होंने सघन अनुश्रवण का भी निर्देश दिया. डीएम ने एक अप्रैल से शुरू हो रहे मद्य निषेध अभियान कार्यक्रम की भी समीक्षा की और उत्पाद अधीक्षक को सख्त निर्देश दिया कि इस अभियान को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए सभी तैयारियां सुनिश्चित कर ली जाये और इसमें किसी भी स्तर पर कोई कोताही हुई तो सीधे संबंधित अफसर नपेंगे. उन्होंने इसके लिए आवश्यक चेक पोस्ट, बैरियर, वाहन इत्यादि की आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कर लेने का भी निर्देश दिया.

डीएम ने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों, बैंकर्स को निर्देश दिया कि वे भी अपने स्तर से इस अभियान की सफलता के लिए जागरूकता पैदा करने के लिए अपने-अपने कार्यालयों में मद्य निषेध से संबंधित नारों, फ्लैक्सों को प्रदर्शित करें तथा अपने मिलने-जुलनेवाले लोगों से या क्षेत्र भ्रमण के क्रम में लोगों से वर्ग वार्त्ता कर इस अभियान को पूर्णत: सफल बनाने के लिए उत्प्रेरित करें.  डीएम ने समीक्षा के क्रम में सभी निकासी एवं व्ययन पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि 31 मार्च के पूर्व अपने स्थापना के सभी कर्मियों का जिनका आवंटन उपलब्ध है, का वेतन, मानदेय भुगतान हर हाल में सुनिश्चित करें. यदि आवंटन रहते हुए फरवरी 2016 का वेतन/मानदेय भुगतान किसी भी कर्मी का कोई विशेष कारण न रहते हुए लंबित रहेगा, तो संबंधित निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी के विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई होगी. डीएम ने कहा कि यदि किसी निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी को कोषागार में विपत्र पारित कराने में किसी प्रकार की कोई कठिनाई हो, तो अपर समाहर्ता राजेश कुमार के नेतृत्व में धावा दल गठित है, जिससे कोई भी निकासी व्ययन पदाधिकारी सहयोग प्राप्त कर सकता है.  डीएम ने कहा कि 31 मार्च के बाद उनके द्वारा विभिन्न कार्यालयों का निरीक्षण प्रारंभ किया जायेगा. इसलिए सभी कार्यालय प्रधान अपने-अपने कार्यालयों की सभी पंजियों को अद्यतन कर लेना सुनिश्चित करें. डीएम ने बैंकों के कार्यकलापों पर  घोर नाराजगी व्यक्त की और अग्रणी बैंक प्रबंधक की क्लास लगायी.  डीएम ने डीडीसी को निर्देश दिया कि जिले में कार्यरत सभी बैंकों की रैंकिंग उनके कार्य आधार पर की जाये, जिसमें सीडी रेसियो, सरकारी योजनाओं में बैंकों की उपलब्धि इत्यादि शामिल हो. रैंकिंग के आधार पर प्रथम पांच बैंकों में ही सरकारी राशि रखी जाये और खराब प्रदर्शन करनेवाले बैंकों से सरकारी राशि निकाल ली जाये. बैठक में उपविकास आयुक्त सुनील कुमार, अपर समाहर्त्ता राजेश कुमार समेत जिलास्तरीय सभी विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे.

 

 

LEAVE A REPLY