हिमाचल प्रदेश- पठानिया ने नवाजे नेशनल बैंचप्रेस चैम्पियनशिप के विजेता
हिमाचल प्रदेश- पठानिया ने नवाजे नेशनल बैंचप्रेस चैम्पियनशिप के विजेता

धर्मशाला, 29 मार्च: वन निगम के उपाध्यक्ष केवल सिंह पठानिया ने कांगड़ा जिला के रैत में चल रही नेशनल बैंचप्रेस चैम्पियनशिप 2016 के अन्तर्गत विभिन्न वर्गों की प्रतियोगिताओं के विजेताओं को सम्मानित किया। गत सायं आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में पठानिया ने महिला एवं पुरूष वर्ग में टीम प्रतिस्पर्धा तथा मास्टर, जूनियर एवं सीनियर वर्ग प्रतियोगिता में विजेता रहे प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरित किये। गौरतलब है कि इस प्रतियोगिता में देश भर से लगभग एक हजार पुरूष तथा महिला प्रतिभागी विभिन्न वर्गों की प्रतिस्पर्धाओं में भाग ले रहे हैं।

 ये रहे विजेता  –महिलाओं के 43 किलोग्राम वजन श्रेणी में जूनियर वर्ग में उत्तरप्रदेश की मनीषा, जबकि 47 किलोगा्रम श्रेणी में उपजूनियर वर्ग में उत्तरप्रदेश की अंजनी और सीनियर वर्ग में जम्मू-कश्मीर की सुरमीत कौर प्रथम रहीं। 52 किलोग्राम वजन श्रेणी में उपजूनियर वर्ग में हरियाणा की मोनिका बराला, जूनियर वर्ग में मणिपुर की रोमोला, सीनियर वर्ग में कर्नाटक की अक्षता जबकि मास्टर-2 वर्ग में दिल्ली की इन्द्रजीत कौर प्रथम रहीं। 57 किलोग्राम वजन श्रेणी में सबजूनियर में  राजस्थान की मुस्कान, जूनियर में दिल्ली की उषा और सीनियर वर्ग में बिहार की सुधा कुमारी प्रथम रही। 63 किलोग्राम वजन श्रेणी में सबजूनियर में राजस्थान की अंजली, जूनियर में पंजाब की गुरदीप कौर , सीनियर वर्ग में महाराष्ट्र की लक्ष्मी जबकि मास्टर-1 वर्ग में कर्नाटक की वनिथा, मास्टर-2 एवं 3 वर्ग में क्रमशः मणिपुर की बाला एवं तवाबी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। 72 किलोग्राम वजन श्रेणी में सबजूनियर में पंजाब की अमनदीप कौर, जूनियर में कर्नाटक की उषा, सीनियर में महाराष्ट्र की कल्पना जबकि मास्टर-1 वर्ग में महाराष्ट्र की कल्पना,मास्टर-2 में मणिपुर की मेममा ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। न की मुस्कान, जूनियर में दिल्ली की उषा और सीनियर वर्ग में बिहार की सुधा कुमारी प्रथम रही। 83 किलोग्राम वजन श्रेणी में सबजूनियर वर्ग में दिल्ली की मोनी और जूनियर वर्ग में कर्नाटक की उषा प्रथम रही। पुरूषों और महिलाओं की टीम प्रतिस्पर्धाओं में कर्नाटक राज्य की टीमें प्रथम रहीं। इस दौरान पठानिया ने पुरूषों की प्रतिस्पर्धाओं में 53 किलोग्राम वजन श्रेणी से 120 किलोग्राम वजन श्रेणी तक की अलग-अलग स्पर्धाओं में पहले तीन स्थानों पर रहने वाले विजेताओं को भी पुरस्कृत किया ।

 

LEAVE A REPLY