हिमाचल प्रदेश- उपायुक्त रितेश चौहान ने दिये बीपीएल परिवारों की स्पष्ट पहचान करने के निर्देश
हिमाचल प्रदेश- उपायुक्त रितेश चौहान ने दिये बीपीएल परिवारों की स्पष्ट पहचान करने के निर्देश

कांगड़ा,धर्मशाला, 02 अप्रैल -उपायुक्त कांगड़ा रितेश चौहान ने जिले में बी0पी0एल0 सूची के परिवारों का विवरण उनके घरों के बाहर प्रमुखता से प्रदर्शित करने के निर्देश दिये हैं। उन्हांेने कहा कि यह निर्णय बी0पी0एल0 परिवारों के उत्थान के लिये कार्यान्वयित की जा रही विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ सुगमता से पात्र लोगों तक पहुंचाना सुनिश्चित बनाने के उद्देश्य से लिया गया है तथा इस संदर्भ में अधिसूचना जारी की गई है। चौहान ने कहा कि बी0पी0एल0 परिवारों के उत्थान के लिए सरकारी योजनाओं के सफल क्रियान्वयन हेतु इन लाभार्थियों को स्पष्ट रूप से चिन्हित किया जाएगा। चौहान ने कहा कि सितम्बर, 2015 में धर्मशाला में आयोजित जिला स्तरीय शिकायत निवारण कमेटी में लिये गये निर्णय के अनुसार बी0पी0एल0 सूची के परिवारों का विवरण उनके निवास स्थान के बाहर प्रमुखता से प्रदर्शित किया जाएगा, ताकि इन परिवारों की स्पष्ट पहचान करके इनके उत्थान के लिए लक्षित सरकारी योजनाओं का सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित हो। जारी अधिसूचना के अनुरूप बी0पी0एल0 परिवार के निवास स्थान के मुख्य प्रवेश द्वार के समीप दीवार पर 1.5ग्2.5 फुट के आकार में परिवार के मुखिया का नाम, परिवार का बी0पी0एल0 क्रंमाक, परिवार के सदस्यों की संख्या, बी0पी0एल0 में चयनित होने का वर्ष, काले रंग से पीली पृष्ठभूमि पर अंकित किया जाएगा । चौहान ने कहा कि ग्राम पंचायत में समस्त बी0पी0एल0 परिवारों का विवरण प्रदर्शित करने का दायित्व सम्बन्धित ग्राम पंचायतों का होगा तथा दीवार लेखन का समस्त खर्चा ग्राम पंचायतें अपने संसाधनों से वहन करेगीं।

ग्रामीण विकास की योजनाओं का किया जा रहा प्रभावी कार्यान्वयनः रितेश चौहान

उपायुक्त कांगड़ा रितेश चौहान से आज यहां केन्द्रीय ग्रामीण विकास विभाग द्वारा जिले में कार्यान्वित की जा रही विभिन्न योजनाओं के अनुश्रवण के लिए पहुंचे केन्द्रीय दल ने भेंट की तथा योजनाओं के सफल कार्यान्वयन को लेकर चर्चा की।चौहान ने कहा कि जिले में ग्रामीण विकास की सभी योजनाओं का प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित बनाया गया है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय के मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन, इंदिरा आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, ग्रामीण सड़क योजना, राष्ट्रीय सामाजिक कार्यक्रम तथा राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना जैसे कार्यक्रमों के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए अनेक कदम उठाये गये हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को इन योजनाओं के बारे में जागरूक करने के साथ-साथ योजनाओं से लाभ प्राप्त करने की प्रक्रिया बारे अवगत करवाने पर बल देने के साथ-साथ बड़ी संख्या में पात्र व्यक्तियों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाया गया है। केन्द्रीय दल 1 अप्रैल से 5 अप्रैल तक बैजनाथ, कांगड़ा, रैत तथा नगरोटा सूरियां की दस पंचायतों का दौरा करेगा तथा केन्द्रीय योजनाओं से सम्बन्धित कार्यक्रमों की प्रगति का जायजा लेगा।इस अवसर पर केन्द्रीय दल की सदस्य, डा0 गायत्री एवं निरंजना, उपनिदेशक एवं परियोजना अधिकारी कुलवीर राणा, सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 

 

LEAVE A REPLY