हिमाचल प्रदेश- हिमाचल के तीन नन्हें वैज्ञानिक, प्रदेश के लिए गौरव

शिमला. 04 अप्रैल,

हिमाचल प्रदेश- हिमाचल के तीन नन्हें वैज्ञानिक, प्रदेश के लिए गौरव
हिमाचल प्रदेश- हिमाचल के तीन नन्हें वैज्ञानिक, प्रदेश के लिए गौरव

हिमाचल के तीन नन्हें वैज्ञानिकों को यूरोपियन स्पेस एजेंसी देखने का मौका मिला है। वह बेल्जियम में स्पेस एजेंसी देखने जाएंगे। डिफेंस रिसर्च डवलपमेंट आर्गेनाइजेशन ने इन बच्चों को स्पेस एजेंसी देखने के लिए आमंत्रित किया है। इसमें एक छात्र कुल्लू से मृगेश ठाकुर, मंडी से डीएवी सेंटमेरी का प्रत्युष और एक डीएवी कांगड़ा रैहण का मनन है जिन्हें स्पेस से संबंधित सभी जानकारियां नजदीक से जानने का मौका मिला है। कुल्लू के कैंब्रिज स्कूल मोहल के सातवीं कक्षा के छात्र मृगेश ठाकुर इस निमंत्रण को पा कर काफी उत्साहित हैं और स्पेस की कार्यप्रणाली को वह अब नजदीक से देख सकेंगे। यूरोपियन स्पेस एजेंसी को देखना न केवल इन छात्रों के लिए गौरव की बात है बल्कि इन छात्रों का चयन किया जाना प्रदेश के लिए भी गौरव का विषय है। स्पेस साइंस ओलिंपियाड द्वारा गत वर्ष अंतरिक्ष से संबंधित एक प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। इस प्रतियोगिता में देश भर से बच्चों ने भाग लिया था जिसमें प्रदेश से तीन बच्चों ने बेहतर प्रदर्शन किया था। इस प्रतियोगिता में पहला स्थान प्राप्त करने वाले कुल्लू के मोहल कैंब्रिज स्कूल के सातवीं कक्षा के छात्र मृगेश ठाकुर का नाम भी शामिल है। इसी के चलते मृगेश को डीआरडीओ के सौजन्य से बेल्जियम में स्पेस एजेंसी देखने का मौका मिला है। इनके साथ दो छात्रों का भी चयन हुअ। है।इस प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए मृगेश को जूनियर साइंटिस्ट पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है। उसे यह पुरस्कार वैज्ञानिक पद्म विभूषण अवॉर्ड से सम्मानित वैज्ञानिक प्रोफेसर यशपाल ने दिया है।वह काफी उत्साहित हैं।मृगेश के पिता पंकज और माता रैना ठाकुर अपने बेटे की इस कामयाबी को लेकर काफी खुश हैं ।

 

 

 

LEAVE A REPLY