राष्टीथय कवि संगम के अध्यओक्ष वीरेंद्र शर्मा वीर
राष्टीथय कवि संगम के अध्यओक्ष वीरेंद्र शर्मा वीर

राष्ट्रीय कवि संगम 10 को करेगा अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन नॉयर्ड संस्था करवाएगी लोगों को समृद्ध जल संस्कृति से रूबरू

धर्मशाला : ज्वालामुखी के नज़दीक़ अद्धे दी हट्टी गाँव में 10 अप्रैल को साहित्य और जल संस्कृति से हजारों लोग रु बरू होंगे। इस दिन राष्ट्रीय कवि संगम द्वारा अखिल भारतीय बहुभाषी  कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। वहीँ नेशनल ऑर्गेनाइजेशन फॉर यूथ एन्ड रूरल डेवलपमेंट (नॉयर्ड) संस्था की ओर से काँगड़ा जिला की समृद्ध जल संस्कृति व् परम्पराओं पर प्रदर्शनी लगाई जायेगी। राष्ट्रीय कवि संगम के हिमाचल इकाई अध्यक्ष वीरेंद्र शर्मा वीर ने बताया कि इस दौरान ओंकार फलक जी की किताब ‘कालियां धारां सूरज उग्गै’ व नवीन हलदूणवी जी की किताब ‘सुथरी सोच’ का लोकार्पण किया जाएगा। इस सम्मेलन में पूरे भारतवर्ष से  90 कवि शामिल होंगे। वहीं नोयर्ड संस्था की सचिव डा. जोनू बाला ने बताया कि इस दैरान काँगड़ा के प्राकृतिक जल स्रोतों को बचाने पर चर्चा भी की जायेगी। उन्होंने बताया कि इस दैरान आसपास के गांवों के हजारों लोग प्रदर्शनी के जरिये समृद्ध जल परम्पराओं को जानेंगे।  वहीं वीरेंद्र वीर ने बताया कि राष्ट्रीय कवि संगम का ध्येय पूरे हिमाचल प्रदेश में साहित्यिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के साथ साथ  विशेषकर युवाओं को राष्ट्रीय स्तर का मंच प्रदान करना व समाज की मुख्यधारा से विमुख होने से रोकना है ।

LEAVE A REPLY