हिमाचल प्रदेश – ब्यूरो चीफ हिमाचल
मेयर, डिप्टी मेयर और पार्षदों ली शपथ
धर्मशाला, 9 अप्रैल- नगर निगम धर्मशाला के नवनिर्वाचित पार्षदों ने आज पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। धर्मशाला के तपोवन स्थित विधान सभा भवन के परिसर में आयोजित एक सादे समारोह में शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा की उपस्थिति में शहरी विकास विभाग के निदेशक कै0 जेएम पठानिया ने सभी पार्षदों को शपथ दिलाई।

शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा के साथ धर्मशाला नगर निगम के नवनिर्वाचित महापौर रजनी एवं उपमहापौर देविन्द्र जग्गी
शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा के साथ धर्मशाला नगर निगम के नवनिर्वाचित महापौर रजनी एवं उपमहापौर देविन्द्र जग्गी
शपथ ग्रहण करने के उपरांत विधान सभा भवन के समिति हॉल में महापौर एवं उपमहापौर पद के लिए चुनाव हुआ। चुनाव में वार्ड नम्बर 15 खनियारा की रजनी देवी सर्वसम्मति से नगर निगम की मेयर चुनी र्गइं। उपमहापौर के पद के लिए वार्ड नम्बर 10 के देविन्द्र जग्गी ने वार्ड नम्बर दो भागसू नाग के ओंकार नैहरिया को दो के मुकाबले चौदह मतों से परास्त किया। एक वोट अवैध करार दिया गया। इसके पश्चात, शहरी विकास विभाग के निदेशक कै0 जेएम पठानिया ने महापौर रजनी देवी  एवं उपमहापौर देविन्द्र जग्गी को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।
शहरी विकास मंत्री ने दीं शुभकामनाएं
भारी जन-समर्थन के लिए क्षेत्रवासियों का जताया आभार
शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने महापौर, उपमहापौर सभी पार्षदों को अपनी शुभकामनाएं देते हुये क्षेत्र के विकास के लिए पूर्ण सम्पर्ण के साथ मिलकर कार्य करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि भारत के सभी पहाड़ी शहरों में से धर्मशाला में नियोजित विकास की सबसे प्रबल सम्भावनाएं एवं पर्याप्त स्थान उपलब्ध है। धर्मशाला शहर को आदर्श शहर के रूप में विकसित किया जा रहा है, जिसके लिए धन की कोई कमी नहीं रखी जायेगी। यहां अनेक विकास परियोजनाएं कार्यान्वित की जा रही हैं तथा युवाओं के लिए रोजगार के अधिक अवसर सृजित करने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि धर्मशाला को नगर निगम बनाने का निर्णय कठिन था, जिसके लिए उन्हें विरोध भी सहना पड़ा। लेकिन, वोट बैंक की राजनीति से हट कर क्षेत्र के विकास एवं बेहतरी में निर्णय लेने के लिए राजनैतिक इच्छा शक्ति की जरूरत होती है और वे राजनीति से ऊपर उठकर क्षेत्र के विकास के लिए कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दूरदर्शी सोच के साथ विकास गतिविधियों को कार्यान्वित कर रही है, ताकि वर्तमान के साथ-साथ आने वाली पीढ़ियां भी इससे लाभान्वित हो सकंे।
उन्होंने नगर निगम चुनावों में मिली बड़ी जीत एवं भारी जन-समर्थन के लिए क्षेत्रवासियों का आभार जताते हुये कहा कि जनता ने उनमें विश्वास जताते हुए जो स्नेह दिया है इससेे उनका मनोबल और बढ़ा है। उन्होंने कहा कि बड़ी जीत के साथ बड़ी उम्मीदें भी जुड़ी होती हैं तथा जनता की आशाओं के अनुरूप विकास कार्यों को और गति दी जायेगी। उन्होंने कहा कि धर्मशाला के प्रबुद्ध मतदाताओं ने योग्य जनप्रतिनिधियों को चुना है, जिससे विकास कार्यों के प्रभावी कार्यान्वयन में सुविधा होगी और क्षेत्र के विकास के लिए एक टीम की तरह मिलकर प्रयास किए जाएंगे।
इस अवसर पर वन विकास निगम के उपाध्यक्ष केवल सिंह पठानिया, उपायुक्त कांगड़ा रितेश चौहान, पुलिस अधीक्षक संजीव गांधी, अतिरिक्त जिला दंडााधिकारी बलवीर ठाकुर, नगर निगम के आयुक्त राकेश शर्मा सहित पंचायती राज संस्थाओं के के निर्वाचित सदस्य एवं शहर के गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

LEAVE A REPLY