पुलिस प्रशासन द्वारा पुलिस थाना धर्मशाला के प्रवेश द्वार पर स्थित हनुमान मंदिर में चैत्र नवरात्रों के अवसर पर रखे गए श्री दुर्गा सप्तशती पाठ की वीरवार को पूर्णाहुति डाली गई। नवरात्रों के दौरान पंडित शिव कुमार मिश्रा ने श्री दुर्गा सप्तशती का पाठ किया। वीरवार को एसपी संजीव गांधी, एएसपी शालिनी अग्रिहोत्री व एसएचओ मूलराज कपूर ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत कर दुर्गा सप्तशती पाठ की समाप्ति पर अष्टमी पर्व पर आयोजित यज्ञ में पूर्णाहुति डाली। यज्ञ के मौके पर स्थानीय महिलाओं ने मंदिर में भजन कीर्तन भी किया। इस दौरान एसपी ने कन्या पूजन किया तथा इसके उपरांत भंडारे का आयोजन किया गया। इस अवसर पर पुलिस विभाग के कर्मचारियों सहित स्थानीय लोग भी उपस्थित थे। हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार नवरात्रों के दौरान कन्या पूजन का विशेष महत्व है। अष्टमी व नवमी के दिन 3 से 9 वर्ष की कन्याओं के पूजन की परंपरा है। धर्म ग्रंथों के अनुसार 3 से 9 वर्ष की कन्याएं माता का साक्षात रूप मानी जाती हैं। शास्त्रों के अनुसार एक कन्या के पूजा से ऐश्वर्य, दो के पूजन से भोग और मोक्ष, तीन के पूजन से धर्म, अर्थ व काम, चार की पूजा से राज्यपद, पांच की पूजा से विद्या, छह कन्याओं के पूजन से छह प्रकार की सिद्धियां, सात कन्याओं के पूजन से राज्य, आठ कन्याओं की पूजा से संपदा और नौ कन्याओं की पूजा से पृथ्वी के प्रभुत्व की प्राप्त होती है।

LEAVE A REPLY