पनंगा पंचायत के बंशिदों को सड़क मार्ग के बंद होने से पेश आ रही दिक्कतें-

मार्ग पर चट्टानों के गिरने से वाहनों की आबाजाही पूर्णतयः ठप्प-

राजीव ब्यूरो कुल्लू-

जिला कुल्लू की पनंगा पंचाायत के बशिंदो को पनगां गलूण सड़क के बंद होने से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। गौरतलब है कि डेढ़ माह पहले पनगां गलूण सड़क मार्ग स्थित मुशहन पर भारी भूस्खलन हुआ था। भूस्खलन के चलते सड़क काफी प्रभावित हुई थी लेकिन विभाग ने अभी तक इस सड़क को ठीक करना मुनासिब नहीं समझा। इस सड़क के  बंद होने से पनगां पंचायत के शेगली, कनौनी, गलूण, न्यालग गांव के लोगों को परेशानियां झेलनी पड़ रही है।  ग्रामीणों ने विभाग पर आरोप लगाया कि विभाग को कई बार अवगत करवाने पर भी इस सड़क को ठीक नहीं कर रहा है। ग्रामीणों का कहना है सड़क मार्ग के ध्वस्त होने से इस सड़क मार्ग पर गाडिय़ों की आवाजाही पूरी तरह से बंद हो गई है। लोगों को 14 किलोमीटर की दूरी तय कर अपने घरों तक पहुंचना पड़ रहा है। सबसे अधिक समस्या स्कूल के बच्चों व कर्मचारियों को हो रही है।ग्रामीण मेहर चंद ठाकुर, प्रेम चंद ठाकुर, देवी राम, फतेह चंद, चुन्नी लाल ने बताया कि मार्च माह में हुई भारी बारिश  के चलते मुशहन नामक स्थान पर पर  बड़ी-बड़ी चट्टाने गिरी हैं। इन लोगों का कहना है कि उन्होंने इसबारे में विभाग को भी कई बार अवगत करवाया लेकिन विभाग के कान में जूं तक नहीं रेंग रही है। इन लोगों का कहना है कि इन चट्टानो को हटाने के लिए कई विभाग से कई बार गुहार लगा चुका है व ज्ञापन भी सौंप चुका है लेकिन अभी तक इस बारे में काई भी कार्य नहीं हुआ है। इन लोगों का कहना है कि यदि विभाग जल्द से जल्द इस  ध्वस्त सड़क मार्ग हो ठीक नहीं किया तो ग्रामीण धरना करने पर मजबूर हो जाएंगे। गौरतलब है कि  पनगां पंचायत के 700 लोगों को रोजमर्रा के कार्य के लिए इस मार्ग से रोज आना जाना होता है। डेढ़ माह से चार गांव की जनता इस सड़क मार्ग के ठीक होने की आस में हैं। लेकिन विभाग की लचर व्यवस्था के चलते यह अभी तक इसे ठीक नहीं किया गया है। वहीं सड़क मार्ग में चट्टानों के गिरने से ग्रामीणों को अपने पीठ पर अपने जरूरी सामान को उठाकर अपने घरों तक ले जना पड़  रहा है। वहीं मुशहन के पास गिरी चट्टाने हादसे का कारण बन रही हैं यह चट्टाने धीरे-धीरे नीचे की ओर खिसक रही हैं जो यहां से चलते राहगीरों को अपना निशाना बना सकती हैं।

वहीं शेगली, कनौन, गलूण, न्यालग के लोगों का कहना है कि यदि विभाग समय रहते इस सड़क को ठीक नहीं करेगी तो लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY