(शैलेश कुमार पाण्डेय )
गोपालगंज। न बाप बड़ा न भैया सबसे बड़ा रूपया , यह कहावत चरितार्थ करती है अस्पताल संचालक के साथ , यहा पैसे के लिए चाचा ने ही अपने भतीजे के साथ रंगदारी की साजिस रच दी , जिसको गोपालगंज पुलिस ने पर्दाफास कर दिखया , पुलिस ने मोहम्मदपुर के राहुल अस्पताल के संचालक से रंगदारी मांगने के मामले में 6 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। अस्पताल के संचालक डॉ. राहुल कुमार से रंगदारी मांगने वाले सभी आरोपियों को रंगदारी वसुलने से पहले गिरफ्तार कर जेल के सलाखों के पीछे धकेल दिया है। पुलिस ने अपराधियों के पास से 6 मोबाइल बरामद किए है। इस रंगदारी कांड का मुख्य सरगना कोई शातिर अपराधी नही बल्कि चिकित्सक का सगा चाचा है। एसपी रविरंजन कुमार के मुताबिक पीड़ित चिकित्सक के चाचा मुकेश सिंह ने ही अपने चिकित्सक भतीजे से २० लाख रुपये रंगदारी मांगने की साजिश रची थी। मुकेश सिंह ने ही रंगदारी मांगने के लिए कुख्यात अपराधी अशोक कुमार सिंह को मोबाइल फ़ोन उपलब्ध कराए थे।एसपी के मुताबिक बीते २२ अप्रैल को अज्ञात अपराधियो ने चिकित्सक और अस्पताल संचालक डॉ.राहुल कुमार सिंह के मोबाइल पर मेसज भेजकर २० लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी। मोहम्मदपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कर सदर एसडीपीओ मनोज कुमार के नेतृत्व में विशेष टीम का गठित कर गुरुवार को आरोपियों को दबोच लिया गया। आरोपी में मोतिहारी के अशोक सिंह, गुड्डू शर्मा, चिकित्सक के चाचा मुकेश सिंह, मुन्ना सिंह सहित ६ लोगो को गिरफ्तार किया। इन अपराधियो के ऊपर रंगदारी मांगने, जान से मरने की धमकी देने सहित कई संगीन आरोप है। वहीं एसपी के मुताबिक गिरफ्तार अशोक सिंह की पूर्व में भी मुजफ्फरपुर और मोतिहारी में रंगदारी मांगने के मामले दर्ज है। जिनकी कई जिलो की पुलिस को तलाश थी। 201605060535125810_Uncle-extortion-plot-hatched-6-arrested_SECVPF

LEAVE A REPLY