सुनामी ब्यूरो बिलासपुर । बिलासपुर में इन दिनों चिलचिलाती झुलसाती धूप और गर्म हवाओं ने आम जन-जीवन ही नहीं, बल्कि पेड़-पौधों को भी बुरी तरह प्रभावित किया है। सूरज की तपिश से हरे पेड़-पौधों के पत्ते भी जलने लगे हैं। पारा 45 डिग्री के पार पहुंच रहा है।  प्रदेश में बिलासपुर सबसे गर्म शहर बन गया है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 43 डिग्री से. रहा। शाम के समय तेज हवा के साथ बौछारें पड़ीं। हालत ये कि भू-जलस्तर गिर रहा। पेयजल की आपूर्ति गड़बड़ा रही। मौसम जनित बीमारियां भी बढ़ रहीं। हीट स्ट्रोक के मरीज रोजाना अस्पताल पहुंच रहे वही जानकारों  का कहना है कि नवतपा में तापमान और बढ़ेगा। इन सबके 20160509225654बीच भरी गर्मी में मेंटनेंस के लिए बिजली की कटौती भी लोगो को परेशान कर रही है  पिछले तीन-चार दिनों में45 डिग्री से. को भी पार कर गया। मई के औसत तापमान में डेढ़ डिग्री से. वृद्धिदर्ज की गई। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक जैसे-जैसे उत्तरी हवाओं में नमी कम होगी और पश्चिमी गर्म हवाएं यहां पहुंचेंगी, तापमान और बढ़ेगा एसी-कूलर फेल तेज गर्मी के कारण घरों में दुबक रहे हैं। लेकिन पंखे और कूलरों ने भी उनका साथ छोड़ दिया है। गर्मी के तीखे तेवर देखकर कूलर-पंखे भी पनाह मांग रहे। तापमान में हो रही लगातार वृद्धि से शाम के बाद भी गर्म हवाओं के थपेड़ों से छुटकारा नहीं मिल रहा। लोग गर्मी से बचने के लिए एयरकंडीशन का सहारा ले रहे है ।

LEAVE A REPLY