हिमाचल प्रदेश:२४,मई,१६- शहरी मंत्रालय  ने  शामिल किया 'धर्मशाला' को स्मार्ट सिटी सूची में ...
हिमाचल प्रदेश:२४,मई,१६- शहरी मंत्रालय ने शामिल किया ‘धर्मशाला’ को स्मार्ट सिटी सूची में …

धर्मशाला -स्मार्ट सिटी कि दौड़ में धर्मशाला एक बार फिर बाज़ी मार गया. शहरी मंत्रालय द्वारा स्मार्ट सिटी कि दूसरी सूची आज {मंगलवार} को जारी कर दी गई , जिसमे हिमाचल प्रदेश का विश्व प्रख्यात पर्यटक स्थल धर्मशाला भी शामिल हो गया है.
भारत की वर्तमान जनसंख्या का लगभग 31% से अधिक शहरों में बसता है . उम्मीद है कि वर्ष 2030 तक शहरी क्षेत्रों में भारत की आबादी का 40% रहेगा और भारत के सकल घरेलू उत्पाद में इसका योगदान 75% तक होगा । इसके लिए भौतिक, संस्थागत, सामाजिक और आर्थिक बुनियादी ढांचे के व्यापक विकास की आवश्यकता है। ये सभी जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने एवं लोगों और निवेश को आकर्षित करने, विकास एवं प्रगति के एक गुणी चक्र की स्थापना करने में महत्वपूर्ण हैं। स्मार्ट सिटी का विकास इसी दिशा में एक कदम है।
स्मार्ट सिटी मिशन स्थानीय विकास को सक्षम करने और प्रौद्योगिकी की मदद से नागरिकों के लिए बेहतर परिणामों के माध्यम से जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने तथा आर्थिक विकास को गति देने हेतु भारत सरकार द्वारा एक नई पहल है।
स्मार्ट सिटी में नागरिकों कि सबसे अहम जरूरतों एवं जीवन में सुधार करने के लिए बड़े एवं अच्छे अवसरों पर ध्यान केंद्रित करता है।
स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत ऐसे शहरों को बढ़ावा देना है जो मूल बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराएँ और अपने नागरिकों को एक सभ्य गुणवत्तापूर्ण जीवन प्रदान करे, एक स्वच्छ और टिकाऊ पर्यावरण एवं ‘स्मार्ट’ समाधानों के प्रयोग का मौका दें।
स्मार्ट सिटी मिशन रणनीति:
-क्षेत्र का कदम-दर-कदम विकास
-पर्याप्त पानी की आपूर्ति
-निश्चित विद्युत आपूर्ति
– स्वच्छता
– गतिशीलता और सार्वजनिक परिवहन
-किफायती आवास, विशेष रूप से गरीबों के लिए
-सुदृढ़ आई टी कनेक्टिविटी और डिजिटलीकरण
-सुशासन, विशेष रूप से ई-गवर्नेंस और नागरिक भागीदारी
-टिकाऊ पर्यावरण
-नागरिकों की सुरक्षा और संरक्षा, विशेष रूप से महिलाओं, बच्चों एवं बुजुर्गों की सुरक्षा, और
-स्वास्थ्य और शिक्षा

LEAVE A REPLY