मोतिहारी। शिवहर जिले की सीमा पर सिकरहना क्षेत्र में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे जानकर आप भी हैरान रह जायेंगे। कोई शायद कल्पना भी नहीं कर सकता कि प्लास्टिक के बोरे में बंद कोई शख्स जिंदा भी बच सकता है, लेकिन ऐसा हुआ है। जी हां बोरे में बंद लाश समझ कर जिसे पुलिस ने बरामद किया वो असल में जिंदा निकला।

मामला सिकरहना क्षेत्र का है जहां बागमनी नदी के देवापुर घाट पर इलाके के लोगों ने बोरे में बंद लाश होने की खबर पुलिस को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जैसे ही बोरे को खोला वो हैरान रह गई। बोरे में बदं युवक जिंदा निकला।
बताया जा रहा है कि युवक पिछले 21 दिनों से लापता था जिसका अपहरण किया गया था। नशे की हालत में युवक प्लास्टिक के बोरे में बंद था जिसका मुंह हाथ बंधे हुए थे। युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां होश आने पर उसने अपना नाम नीरज बताया। नीरज सीतामड़ी जिले के परसोनी थाना तहत गांव खिरोधर का रहने वाला है।
युवक का 21 दिन पहले किडनैप किया गया था, नशे की हालत में बदमाश उसे नदी किनारे फेंक कर चले गये। पीड़ित नीरज ने इस घटना के पीछे अपने ही पड़ोसी का हाथ बताया है। उसका कहना है कि पड़ोसी से पैसों का लेनदेन था इसी के चलते उसने उसका किडनैप किया। फिलहाल पुलिस ने पीड़ित नीरज के परिजनों को सूचना दे दी है, और आगे की जांच में जुट गई है।

 201605291152472528_young-man-was-found-alive-in-the-bag_SECVPF

LEAVE A REPLY