20160602165417
20160602165417सुनामी ब्यूरो ।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने नई पार्टी बनाने का ऐलान किया है। इसकी अधिकृत घोषणा 6 जून को मारवाही विधानसभा में होगी। उसके बाद ही वे कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफा देंगे। श्री जोगी के इस ऐलान से छत्तीसगढ़ की राजनीति में भूचाल आ गया है।  पत्रकारों से चर्चा करते हुए वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की जनता विगत 12 वर्षों में रमन सरकार से उब चुकी है। रमन सरकार के घोटालों और भ्रष्टाचार से जनता परेशान है। जनता आने वाले चुनावों में नये लोगों को मौका देना चाहती है। इसलिए वे स्थानीय लोगों के साथ मिलकर एक नई पार्टी का गठन करेंगे। जिसमें छत्तीसगढिय़ों को ही मौका मिलेगा। श्री जोगी ने कहा कि मारवाही विधानसभा उनकी जन्म और कर्म भूमि रही है। इसलिए वे मारवाही की जनता के बीच सलाह मश्वरा करके आगामी रणनीति तैयार करेंगे। 6 जून को मारवाही में श्री जोगी ने अपने 1500 समर्थकों की बैठक बुलाई है। बैठक में नई पार्टी के गठन तथा संचालन पर निर्णय लेंगे। श्री जोगी ने कहा कि 6 जून के बाद ही कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफा देंगे।श्री जोगी ने आरोप लगाते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव छत्तीसगढ़ की समस्याओं को पुरजोर तरीके से उठाने में असफल रहे हैं। वे दोनों रमन सरकार का बचाव करने में लगे हैं। एक सवाल के जवाब में श्री जोगी ने कहा कि उनके साथ कई विधायकों का समर्थन है जो नई पार्टी के गठन और संचालन पर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। कांग्रेस हाईकमान के सवाल पर श्री जोगी ने कहा कि वे अब दिल्ली नहीं जाएंगे और नए सिरे से अपने दम पर नई पार्टी का गठन कर आगामी विधानसभा चुनाव में

बहुमत लाकर दिखाएंगे। छत्तीसगढ़ में व्याप्त विभिन्न समस्याओं को लेकर जनता तक घर-घर पहुंचेगे और लोगों का विश्वास जीतेंगे।

 

LEAVE A REPLY