(मो० फिरोज आलम )

कलियुग के भगवान बने यहा शैतान .

– सरकारी अस्पतालों से टूट रही लोगो की उम्मीदे201606051810173143_Road-Accident-in-Siwan_SECVPF

– आखिर गरीबो के कौन लगाएगा बेड़ा पार

सीवान। बिहार में सरकारी अस्पतालों की हकीकत क्या है ये जानना है तो सीवान आइये। कहने के तो हर पंचायत में पीएचसी है। लेकिन आपको डॉक्टर्स से मुलाकात हो जाए तो समझ लीजिए भगवान से मुलाकात हो गई। जी हां, कुछ ऐसा ही नजारा रविवार को देखने को मिला। दरअसल, पचरुखी थाने के चौमुखा के समीप एक गाड़ी पलटने से 9 मजदूर घायल हो गए। बतया जाता है कि ये मजदूर एक वैन से सीवान बिजली विभाग से ट्रासफार्मर लेकर किसी गांव में लगाने जा रहे थे। तह ही एक गढ़े में वैन पलट गया। जिससे 9 मजदूर घायल हो गए। जिनमें से तीन ट्रासफार्मर के नीचे दब गए।
वहीं, स्थानीये लोग आनन-फानन में सदर अस्पताल ले गए लेकिन वहां जाने पर पता चला की यहां तो ना तो बेड है, ना दवा और ना ही कोई डॉक्टर। तब जा कर उन सब को सदर अस्पताल सीवान में भर्ती कराया गया। सदर अस्पताल पहुंचने पर मरीजों को बेड और डॉक्टर तो नसीब हुआ लेकिन यहां भी दवा नहीं मिला। फिलहाल सभी का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।

 

LEAVE A REPLY