पटना के नजदीक साहेबगंज इंटरसिटी एक्सप्रेस में मंगलवार की रात अपराधियों ने लूट की घटना को अंजाम दिया है. चलती ट्रेन में अचानक उस समय हड़कंप मच गया जब बोगी में तीन अपराधी पिस्टल तान कर खड़े हो गए. जान से मार देने की धमकी देते हुए करीब एक दर्जन यात्रियों से उनकी जेब खाली करा दी और मोबाइल फोन लूट लिया. पटना और भागलपुर के यात्रियों से ज्यादा लूटपाट जानकारी के अनुसार लुटेरों ने जिन यात्रियों को शिकार बनाया है, उनमें पटना और भागलपुर के कई लोग शामिल हैं. बताया जाता है कि पटना के मंटू शर्मा और उनकी भगिनी शांभवी से 10 हजार कैश और मोबाइल फोन, भागलपुर के रहने वाले बबलू से 6500 रुपये, रवि कुमार से 2000 रुपये और मोबाइल फोन लूट लिया गया है. इसके अलावा अन्य यात्रियों से भी नगद और मोबाइल फोन लूटा गया है.

ट्रेन की चेन खींचकर उतर भागे लुटेरे            
अपराधी बाढ़ स्टेशन पर ट्रेन में चढ़े थे और ट्रेन की स्पीड पकड़ते ही लूटपाट करने लगे. लुटेरे एक-एक यात्री की तलाश कर रहे थे. बाद में ट्रेन की जंजीर खींच कर सभी अपराधी भाग खड़े हुए. इस संबंध में फतुहा जीआरपी मेंमामला दर्ज कराया गया है. जीआरपी ने कहा कि अपराधियों के जल्द पकड़ने के लिए छानबीन की जा रही है. वहीं घटना के बाद से यात्री डरे-सहमे हैं.

लूट के बाद दहशत में रहे सभी यात्री
लूट के बाद जहां भी ट्रेन रुकी, यात्रियों ने वहां-वहां जीआरपी से इसकी शिकायत की. भागलपुर से पटना आ रही साहेबगंज इंटरसिटी में चढ़ने के बाद ट्रेन के रफ्तार में आते ही लुटेरों ने पिस्तौल निकाल लिया. कोच के दोनों गेट को कवर करते हुए यात्रियों को जान से मारने की धमकी देने लगे.

बारी-बारी से लोगों की जेबें करा रहे थे खालीtrain_146656361254_650x425_062216082208
इस दौरान बारी-बारी से सभी यात्रियों की जेब खाली करा ली. नगदी लूटने के बाद सभी का मोबाइल फोन भी लूट लिया. अथमलगोला स्टेशन से पहले ट्रेन की जंजीर खींचकर लुटेरे अंधेरे में उतर कर भाग गए. यहां काफी देर तक ट्रेन खड़ी रही. ट्रेन खुलने के बाद बख्तियारपुर में जीआरपी को जानकारी दी गई. फतुहा में जीआरपी इंस्पेक्टर से सभी यात्रियों से शिकायत की. वहीं जीआरपी ने तुरंत ही घटना की जानकारी जीआरपी पटना को दी.

 

LEAVE A REPLY